विहिप नेता देशपांडे बोले- 15 जनवरी से छत्तीसगढ़ के घर-घर पहुंचकर चंदा एकत्र करेंगे कार्यकर्ता , December 24, 2020 at 05:56AM

छत्तीसगढ़ के हर गांव,शहरों के मुहल्ले से राम मंदिर के लिए चंदा लिया जाएगा। लोग अपनी मर्जी से सहयोग राशि देंगे। बदले में लोगों को संगठन कूपन या रसीद देगा। बुधवार को इस अभियान की जानकारी देने विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री विनायकराव देशपांडे रायपुर पहुंचे। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी से 27 फरवरी तक यह अभियान चलेगा। इसके तहत प्रदेश के लोगों से मिलकर उन्हें राम मंदिर निर्माण की जानकारी दी जाएगी। लोगों से आर्थिक सहयोग लिया जाएगा।

राम मंदिर राष्ट्र मंदिर है
देशपांडे ने कहा कि राम मंदिर, राष्ट्र का मंदिर है। पूरा राष्ट्र इसे बनाने में मदद करेगा। देश के संविधान में राम भगवान को महान बताया गया। महात्मा गांधी ने भगवान राम को भारत की पहचान माना। यही वजह है हम राम मंदिर को राष्ट्र मंदिर मानते हैं। हम देश के चार लाख गांवों के 11 करोड़ परिवारों से संपर्क कर श्रीराम जन्मभूमि से सीधे जोड़कर रामत्व का प्रसार करेंगे। देश की हर जाति, मत, पंथ, संप्रदाय, क्षेत्र, भाषा के लोगों के सहयोग के साथ राम मंदिर वास्तव में एक राष्ट्र मंदिर का रूप लेगा।

देश के टॉप इंजीनियर्स से ले रहे सलाह
देशपांडे ने बताया कि मंदिर के निर्माण की तैयारी चल रही है। मुंबई, दिल्ली, चेन्नई तथा गुवाहाटी के आईआईटी, सीबीआरआई रुड़की, लार्सन एंड टूब्रो तथा टाटा के विशेषज्ञ इंजीनियर मंदिर की मजबूत नींव की ड्राइंग पर परामर्श कर रहे हैं। बहुत शीघ्र नींव का प्रारूप सामने आ जाएगा। संपूर्ण मंदिर पत्थरों का है। प्रत्येक मंज़िल की ऊंचाई 20 फीट, लंबाई 360 फीट तथा चौड़ाई 235 फीट है। उन्होंने कहा कि देश की वर्तमान पीढ़ी को इस मंदिर के इतिहास की सच्चाइयों से अवगत कराने की योजना बनी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर रायपुर की है। विहिप नेताओं ने पंडरी स्थित दफ्तर मेंं इस अभियान के बारे में बताया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2KNRSUz

0 komentar