परिजन राजी नहीं थे तो पुलिस बनी बाराती, चट मंगनी-पट ब्याह कराया , December 08, 2020 at 06:42AM

पुलिस की खराब छवि आए दिन अखबार की सुर्खियां बनी रहती है। इसके कारण कई बार उन्हें शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। हालांकि इस बार मामला उलट है। इस बार पुलिसकर्मियों की चर्चा खराब छवि के कारण नहीं बल्कि नेक काम के लिए हो रही है। ग्राम छिन्दौली की युवती बुन्देली चौकी में रिपोर्ट लिखवाने पहुँची और एक लिखित आवेदन दिया, जिसमें उसने अपना नाम टूमन पटेल पिता स्वर्गीय बुधराम पटेल उम्र 29 साल ग्राम छिन्दौली लिखवाया। हालांकि शाम होते-होते बुन्देली चौकी प्रभारी विकास शर्मा के कारण वह टूमन पटेल पति रामकुमार पटेल हो गई। दरअसल परिवार वालों के नहीं मानने पर चौकी प्रभारी ने अपनी उपस्थिति में दोनों प्रेमियों की शादी कराई। साथ ही पुलिसकर्मी इस आदर्श विवाद में बराती के रूप में शामिल हुए।
दरअसल ग्राम छिन्दौली की टूमन पटेल पिता स्वर्गीय बुधराम पटेल बुंदेली चौकी पहुंचकर रामकुमार पटेल के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाते हुए बोली कि हम दोनों प्यार करते हैं। लड़का मुझसे ही शादी करना चाहता है लेकिन अपने परिवार वालों के दबाव में आकर शादी के लिए मना कर रहा है। उसके बाद युवक को चौकी बुलाकर उसकी बात भी सुनीं। चौकी की पूरी टीम ने दोनों कि पूरी समस्या सुनीं। महिला स्टाफ ने युवती को और कि चौकी प्रभारी सहित पूरे पुरुष स्टाफ ने युवक के शादी नहीं करने के कारण जानने का प्रयास किया। इस पर युवक ने स्वीकार किया कि मैं लड़की से प्यार करता हूँ और उसी से शादी करना चाहता हूं पर घर में कुछ कारणों से लड़की को स्वीकार नहीं कर रहे हैं। हम शादी करते हैं तो विवाद हो सकता है। लिहाजा हमें सुरक्षा दी जाए। दोनों ने कहा कि हम अभी यहीं शादी करना चाहते हैं। तब चौकी प्रभारी विकास शर्मा ने चौकी में स्थित भगवान शंकर मंदिर के सामने दोनों के शादी की व्यवस्था की।

दो साल से था दोनों के बीच प्रेम
चौकी प्रभारी विकास शर्मा को युवती ने बताया कि वह दो साल दो से से ग्राम बरेकेल थाना पिथौरा निवासी राम कुमार पटेल पिता धनसिंग पटेल से प्रेम प्रसंग चल रहा है उसने उससे शादी करने का वचन भी दिया था पर घर वालों के दबाव में शादी नहीं करना चाह रहा है। इसलिए आप उसके खिलाफ रिपोर्ट लिखिए विकास शर्मा ने जब युवती की सारी बातों को सुना।

कुछ घंटों बाद बहू के रूप में स्वीकार कर लिया
लड़की के भाई और घर वाले तथा चौकी के टीम इस शादी की गवाह बने देर रात तक लड़के के घर वाले इस शादी से प्रसन्न नहीं थे। पर कुछ घंटों बाद उन्होंने लड़की को अपनी बहू के रूप में स्वीकार कर लिया है। इस अनोखी शादी कि चर्चा पूरे क्षेत्र में हो रही है। इस शादी में बाराती से लेकर सभी कार्य करने में चौकी प्रभारी विकास शर्मा, गुणमणि साहू, राकेश यादव, युवराज ठाकुर, संजय ध्रुव, ड्रोन सत्यम महिला आरक्षक दिलेशवरी ध्रुव आदि ने योगदान दिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाकर कराई शादी, पुलिसकर्मी भी बने बराती।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mU0xTz

0 komentar