सीएम का विशेषाधिकार हैं नियुक्तियां फिर भी हम रायशुमारी कर रहे , December 11, 2020 at 05:59AM

छत्तीसगढ़ में निगम-मंडल, आयोग और प्राधिकरणों के पदाधिकारियों की घोषणा जल्द की जाएगी। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि इन पदों पर नियुक्ति सीएम का विशेषाधिकार होता है लेकिन यह सामूहिक नेतृत्व की खासियत है कि हम सभी से रायशुमारी करके सूची बना रहे हैं। जिन लोगों को पद दिया गया है, उनके नाम जल्द घोषित किए जाएंगे। सीएम भूपेश ने गुरुवार की सुबह मीडिया से बातचीत करते हुए निगम-मंडल की आस लगाए बैठे नेताओं की बड़ी राहत देते हुए जल्द सूची जारी करने की बात कही है। दरअसल पिछले दो दिनों से लगातार निगम-मंडल आयोग को लेकर मंत्रियों की बैठक हो चुकी है। अब यह माना जा रहा है कि सरकार जल्द ही दो साल का कार्यकाल पूरा होने के पहले संगठन से जुड़े नेताओं को खुशखबरी दे सकती है।

लगभग दो सौ नाम जारी होने के संकेत
बताया गया है कि पिछले दो दिनों तक लगातार चली बैठक के बाद प्रदेशभर के नेताओं को निगम-मंडल, आयोग और प्राधिकरण में जगह दी जा रही है। इनमें सभी मंत्रियों के समर्थकों के साथ ही संगठन के बड़े नेताओं से जुड़े कार्यकर्ताओं को भी पद दिया जा रहा है। बैठक के दाैरान जातिगत समीकरणों के साथ क्षेत्रीयता पर भी ध्यान दिया गया है। यानी प्रदेश के सभी जिला और संभाग के साथ ही लगभग सभी जाति के नेताओं को प्रतिनिधित्व दिया जा रहा है। ऐसे संकेत हैं कि इस बार दो सौ लोगों के नाम जारी किए जाएंगे। लेकिन यह तय नहीं है कि ये सूची एक बार में ही जारी किए जाएंगे या फिर टुकड़ों में लेकिन जितनी भी सूची जारी होगी वह दिसंबर में ही कर दी जाएगी। हालांकि यह तय माना जा रहा है कि कांग्रेस के संघर्ष के दिनों में साथी रहे कार्यकर्ताओं को निगम-मंडलों के साथ संगठन में पद दिया जाएगा।

विधायकों को संतुष्ट करने की कोशिश
संगठन से जुड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं की तरह नाराज चल रहे विधायकों को भी संतुष्ट करने के लिए उन्हें भी पद देकर उपकृत किया जा रहा है। वर्तमान में कांग्रेस के 70 विधायक हैं। इनमें से लगभग 50 से 55 विधायकों को मंत्री, प्राधिकरणों या अन्य पद देकर संतुष्ट किया गया है। इस बार आने वाली सूची में भी 4 से 6 विधायकों को पद दिए जाने की चर्चा है।

प्रभारी सचिव चंदन यादव 3 दिन रहेंगे छग में
कांग्रेस के प्रभारी सचिव डॉ.चंदन यादव चार दिन के दौरे पर छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। वे 12 दिसंबर को सुबह रायपुर आएंगे। और 13 दिसंबर तक विभिन्न संगठनात्मक कार्यक्रमों में शामिल होंगे। 14 दिसंबर को वे सुकमा जाएंगे जहां पर स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद रायपुर आकर दिल्ली लौट जाएंगे।

17 को कैबिनेट की बैठक
15 साल बाद बनी कांग्रेस सरकार के 17 दिसंबर को दो साल पूरे हो रहे हैं। तीसरे साल की शुरुआत करने सीएम बघेल ने कैबिनेट की बुलाई है। इसमें विधानसभा के शीत सत्र की तैयारियों पर भी चर्चा होगी। साथ ही द्वितीय अनुपूरक के साथ करीब 8 से 10 संशोधन विधेयकों को मंजूरी दी जा सकती है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फाइल फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Ki2dYE

0 komentar