छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बोले- विकास कुमार की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी, नक्सलियों के खिलाफ तेज होगा ऑपरेशन , December 14, 2020 at 04:06PM

सुकमा के IED ब्लास्ट में शहीद CRPF के असिस्टेंट कमांडेंट विकास सिंघल को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा है कि विकास कुमार ने कर्तव्य निर्वहन के दौरान अपनी शहादत दी। उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। नक्सलियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का ऑपरेशन और तेज होगा।

छत्तीसगढ़ पुलिस के डीजीपी डीएम अवस्थी ने भी शहीद को सलामी दी।

यूपी भेजा गया पार्थिव शरीर
शहीद विकास कुमार का पार्थिव शरीर सोमवार की दोपहर उनके गृह नगर भेजा गया। विकास उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले थे। इससे पहले रायपुर के माना स्थित बटालियन कैंपस में उन्हें राजकीय सम्मान के साथ सरकार में मंत्री रविंद्र चौबे, डीजीपी डीएम अवस्थी और सीआरपीएफ के आला अफसरों ने सलामी दी।

1985 में जन्मे विकास असिस्टेंट कमांडेंट के पद पर सीआरपीएफ में कमांडो टीम कोबरा का हिस्सा थे।

पत्नी और दो बच्चों को बुलवाया गया
CRPF के आईजी प्रकाश डी ने बताया कि विकास का परिवार बालाघाट में रह रहा था। उनकी पत्नी और दोनों बच्चों को सुरक्षित रायपुर लाया गया। विमान से उन्हें भी पार्थिव शरीर के साथ भेजा गया। विकास 2019 में कोबरा की बटालियन में पदस्थ हुए थे। सुकमा के नक्सल इलाके पलौड़ी में वो मोर्चा संभाले हुए थे। सर्चिंग या ऑपरेशन में वो खुद आगे होकर जिम्मा संभालने के लिए जाने जाते रहे हैं।

विस्फोट की वजह से विकास के शरीर पर कई जख्म आए, डॉक्टरों ने उन्हें बचाने का प्रयास किया मगर कामयाबी नहीं मिली।

रविवार को IED ब्लास्ट के दौरान हुए थे घायल
208वीं कोबरा बटालियन के डिप्टी कमांडेंट विकास कुमार सिंघल रविवार को किस्टाराम थाना इलाके में सर्चिंग पर निकले थे। सुकमा के गांव कांसाराम के पास एक नाले के करीब उन्हें कुछ संदिग्ध वस्तु दिखा। जांच में पता चला कि वहां नक्सलियों ने IED लगाया है। वे IED को डिफ्यूज करने में जुट गए। इस दौरान बम फट गया और हादसे में वे गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उन्हें इलाज के लिए रायपुर लाया गया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर रायपुर के माना स्थित छत्तीसगढ़ पुलिस बटालियन कैंपस की है। यहां से सलामी के बाद शहीद विकास कुमार का शरीर यूपी के लिए रवाना हुआ।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/37cM6EC

0 komentar