दो अलग-अलग पट्टिकाएं लगाईं, लेकिन अभी तक शुरू नहीं हुआ बसों का संचालन , December 19, 2020 at 06:19AM

राजधानी से लगे अभनपुर के नए बस स्टैंड की यह तस्वीर अपनी व्यथा वक्त कर रही है। बनने के बाद उसे और सुंदर दिखने के लिए 34 लाख रुपए खर्च किए गए। एक अक्टूबर 2018 को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह व सांसद रमेश बैस, तीन मंत्री समेत 8 विधायकों व अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ इसका लोकार्पण किया गया, लेकिन अभी तक नए बस स्टैंड में बसों का परिचालन शुरू नहीं हो पाया।

हालात यह हैं कि सुंदर दिखने लगाए गए कांच, बिजली उपकरण व अन्य सामान देखरेख न होने से आसामाजिक तत्वों ने तोड़-फोड़ डाले हैं। पड़ताल में सामने आया कि यह नया बस स्टैंड का भूमिपूजन साढ़े 17 साल पहले हुआ था।

बसों की टाइमिंग तय होते ही शुरू होगा संचालन

परिवहन विभाग से बस की टाइमिंग बढ़ाने का शेड्यूल तय नहीं हो पाया है, इसलिए शिफ्टिंग नहीं हुई है। तोड़फोड़ को लेकर सीएमओ को मरम्मत कराने को कहा है। वहां निगरानी के लिए चौकीदार भी रखा जाएगा। अगले एक-दो महीने में यहां बस स्टैंड शुरू हो जाएगा। -धनेंद्र साहू, अभनपुर विधायक



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बस स्टैंड


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3axtotc

0 komentar