शादियों के सीजन के बाद दाल-आलू की कीमत घट रही, प्याज में भी राहत , December 21, 2020 at 05:26AM

शादियों का सीजन खत्म होते ही दाल के साथ आलू-प्याज की कीमतें कम होने लगी है। सभी राज्यों से बंपर आवक और डिमांड कम होने की वजह से करीब एक महीने बाद दाल की कीमतें 10 रुपए प्रति किलो तक गिर गई है। पिछले माह और इस महीने की शुरुआत में 120 से 130 रुपए किलो में बिकने वाली दाल अब 110-120 रुपए किलो में बाजार में उपलब्ध है। दाल के थोक कारोबारियों के अनुसार नवंबर के पहले हफ्ते में अरहर दाल 10000 से 11500 और चना दाल 7500 रुपए क्विंटल थी। अभी दाल खरीदने पर यही कीमत 9500 से 10500 रुपए प्रति क्विंटल हो गई है। थोक बाजार में दाल की कीमत 1000 रुपए क्विंटल तक गिर गई है।
कोरोना लॉकडाउन खुलने बाद इस बार रायपुर समेत राज्यभर में जमकर शादियां हुईं। यही वजह है कि कारोबारियों ने बड़े स्टॉक ऑर्डर किए। रायपुर में डिमांड से ज्यादा सप्लाई हो गई। इस वजह से नवंबर के पहले हफ्ते में अरहर दाल चिल्हर में 105-125 रुपए किलो मिल रही थी, लेकिन अभी यही दाल 100 से 115 रुपए किलो हो गई है। दालों के साथ ही बाजार में शक्कर, सोयाबीन तेल, फल्ली तेल समेत कई चीजों की कीमत भी कम हो रही है। थोक में यानी एक साथ बड़ी मात्रा में खरीदने पर इन चीजों पर 2 से 20 रुपए तक की कमी आ रही है।

चिल्हर से ज्यादा थोक में सस्ते
आलू-प्याज एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने बताया कि आलू-प्याज की आवक का असर कीमतों पर पड़ा है। थोक में नया आलू 15 और पुराना 25 रुपए किलो में बिक रहा है। यही आलू पिछले महीने थोक में भी 40 रु. किलो में बिक रहा था। हालांकि चिल्हर में आलू का दाम 30 से 35 रुपए किलो है। प्याज थोक में 25 से 30 रु. व चिल्हर में 40 रु. किलो है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फाइल फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3auNMeA

0 komentar