छत्तीसगढ़ में ब्रिटेन से आने वालों को ट्रेस करने के निर्देश, कलेक्टरों को मिली जिम्मेदारी , December 23, 2020 at 07:31AM

ब्रिटेन में फैल रहे नए तरह के कोरोना संक्रमण ने छत्तीसगढ़ में भी सरकार के कान खड़े कर दिए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग ने मंगलवार को संभाग आयुक्तों और कलेक्टरों को विस्तृत एसओपी जारी किया।

सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक कलेक्टरों को ब्रिटेन से से आने वाले यात्रियों के आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट की जांच करने को कहा गया है।

अगर ऐसे लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उन्हें संस्थागत क्वेरेंटाइन, कोविड केयर सेंटर अथवा अस्पताल में भर्ती कराना है। रिपोर्ट के निगेटिव रहने पर संबंधित व्यक्ति को 14 दिनों के लिए होम आइसोलेशन में रहने की सलाह देनी है।

होम हाइसोलेशन की सलाह देने के बाद स्थानीय प्रशासन की जिम्मेदारी खत्म नहीं हो रही है। ऐसे व्यक्ति होम आइसोलेशन के नियमों का पालन कर रहे हैं अथवा नहीं, इसका नियमित फॉलोअप करने का भी निर्देश है।

केंद्र सरकार पहले ही इस संबंध में एसओपी जारी कर चुकी है। हवाई अड्डे पर इस संबंध सूचना प्रसारित करने का भी निर्देश है।

ब्रिटेन से आया था पहला केस

छत्तीसगढ़ में कोरोना का पहला केस मार्च 2020 में आया था। यह ब्रिटेन में पढ़ाई कर रही एक युवती थी। उसने खुद एम्स जाकर जांच कराया था। करीब दो सप्ताह के इलाज के बाद वह स्वस्थ्य होकर लौटी।

पहले मरीज के सामने आने के बाद से छत्तीसगढ़ की अंतरराज्यीय सीमाओं को बंद कर दिया गया था। हालांकि रेल और हवाई यातायात जारी था और संक्रमण बढ़ता चला गया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ब्रिटेन में कोरोना वायरस का एक नया रूप सामने आया है। इसका संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है, लंदन से आने वाली उड़ानों को रोक दिया गया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mE67IB

0 komentar