चश्मदीद दुर्गेश ने बैजनाथ पारा में मिले संदिग्ध को नहीं पहचाना , December 27, 2020 at 05:44AM

अमलेश्वर के खुड़मुड़ा गांव में सोनकर परिवार के बालाराम, रोहित, दुलारी बाई और कीर्तिन की हत्या की गुत्थी 6 दिन बाद भी नहीं सुलझ पाई है। शनिवार को दोबारा डीजीपी डीएम अवस्थी ग्राम खुड़मुड़ा पहुंचे।
डीजीपी ने पहले जांच कर रही टीम से चर्चा की। उन्होंने नाराजगी भी जाहिर की। इसके बाद आईजी विवेकानंद और एसपी प्रशांत ठाकुर से स्टेटस रिपोर्ट लेने के बाद वे लौट गए।

इधर बैजनाथपारा के जिस संदिग्ध को पुलिस हत्यारा मानकर चल रही थी, उसे 11 वर्षीय दुर्गेश ने पहचानने से इंकार कर दिया है। इसके बाद पुलिस ने एक बार फिर मनीषा नाम की महिला की तलाश शुरू की है।

पुलिस को संदेह रायपुर में हुई पूरी प्लानिंग
सोनकर परिवार के चार सदस्यों की निर्मम हत्या के मामले में पुलिस ने दो अलग अलग स्केच जारी किया। स्केच देखकर कई जिलों से करीब सौ लोगों ने संदिग्धों की सूचना दी। पुलिस जानकारी के मुताबिक सभी संदेहियों की पहचान कर रही है। पता चला है कि हत्याकांड की पूरी प्लानिंग रायपुर में की गई। पहले दिन से पुलिस खुड़मुड़ा गांव के एक युवक, महिला और भाठागांव के एक तांत्रिक को संदिग्ध मान रही थी। जिनकी पूरी कॉल डिटेल की हिस्ट्री निकालकर जांच की जा रही है। वारदात में शामिल लोगों की कड़ियां जोड़ने की कोशिश पुलिस कर रही है।

सोनकर परिवार के 32 लोगों के दोबारा बयान
पुलिस ने सोनकर परिवार के 32 सदस्यों से दोबारा पूछताछ की है। जानकारी मिली है कि बालाराम के परिवार से जिन जमीन दलालों ने संपर्क किया था। उन्होंने 7 लाख रुपए एकड़ में जमीन का सौदा करना तय किया था। लेकिन जमीन की कीमत 15 लाख रुपए की मांग की जा रही थी। इस वजह से जमीन का सौदा नहीं हो पाया था। दलालों को जमीन का सौदा कराने में मोटा कमीशन मिलना था। इस एंगल पर भी पुलिस अब जांच कर रही है। पुलिस हत्या के पीछे कमीशन को भी वजह मानकर जांच कर रही है। बहरहाल जांच बेनतीजा रही है।

दुलारी ने दोनों बेटियों से फोन पर की बात
पुलिस के एक टीम ने दुलारी बाई की राजनांदगांव और खमरिया में रहने वाली दोनों बेटियों से भी पूछताछ की है। पता चला है कि वारदात वाले दिन आरोपी के दुलारी बाई के घर पहुंचने के बाद बाद दोनों बेटियों से करीब आधे-आधे घंटे बातचीत की थी। जांच टीम में शामिल एक सीएसपी ने बालाराम के परिवार के बयान लिए हैं। बालाराम के पैतृक गांव गढ़ सिवनी में भी पुलिस ने एक को संदेह के दायरे में रखा है। दोनों बेटियों से पूछताछ में भी कोई खास जानकारी पुलिस को नहीं मिल पाई है। इसके चलते नए सिरे से जांच की जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Eyewitness Durgesh did not recognize suspect found in Baijnath Para


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2WMR4ln

0 komentar