होटल और रेस्टोरेंट संचालकों को रायपुर पुलिस ने दी कार्रवाई की चेतावनी; इस बार शहर में सिर्फ डिनर पार्टीज ही आयोजित , December 28, 2020 at 03:51PM

रायपुर शहर में इस बार कोरोना संक्रमण के खतरे के साए में नए साल का जश्न मनेगा। इसे लेकर पुलिस विभाग ने शहर के होटल और रेस्टोरेंट संचालकों के साथ एक बैठक की। इस दौरान अधिकारियों ने दो टूक कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया तो कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। जरूरत पड़ी को होटल या रेस्टोरेंट को सील कर दिया जाएगा। यह बैठक सिविल लाइंस थाना कैंपस में हुई। बैठक में 200 से ज्यादा कारोबारी शामिल हुए।


इन नियमों का करना होगा पालन
एडिशनल एसपी लखन पटले ने बताया कि रायपुर कलेक्टर की तरफ से जारी निर्देश का पालन सभी को करना होगा। यदि संस्थान डिनर पार्टी का आयोजन करते हैं तो कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंस से लेकर मास्क, सैनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होनी चाहिए। कार्यक्रम स्थल में क्षमता से 50 फीसदी या 200 से ज्यादा की संख्या नहीं होनी चाहिए। पार्किंग की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए। कार्यक्रम के भीतर और बाहर लाइट पर्याप्त होना चाहिए। कार्यक्रम स्थल में कैमरा लगा होना चाहिए। निजी सुरक्षा गार्ड होना चाहिए। लाइसेंस होने पर ही शराब परोसने की अनुमति होगी। कार्यक्रमों में बच्चे और बुजुर्ग पूरी तरह प्रतिबंधित हैं।


नियमों के पालन को लेकर अधिकारियों और कारोबारियों के बीच सहमति बनी। लिहाजा शहर में कोई भी बड़ा कार्यक्रम नहीं हो रहा है।

यह है कलेक्टर की तरफ से जारी गाइडलाइन
कोई भी आयोजन खुले में या सार्वजनिक जगह पर नहीं हो सकेगा। डीजे का इस्तेमाल नहीं होगा। कार्यक्रम में शामिल लोगों की वीडियो ग्राफी करवानी होगी, सीसीटीवी कैमरों का बंदोबस्त करना होगा। इसके साथ एक रजिस्टर में सभी लोगों के नाम, पते और फोन नंबर लिखने होंगे। कार्यक्रम स्थल पर सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनिंग, ऑक्सीमीटर, हैंड वॉश और क्यू मैनेजमेंट सिस्टम की व्यवस्था की जानी अनिवार्य होगी। कोई भी कार्यक्रम रात साढ़े 12 बजे के बाद आयोजित नहीं हो सकेगा। रात 11:55 से 12:30 तक ग्रीन पटाखों का इस्तेमाल हो सकेगा। आयोजक अगर इनमें से किसी भी बात का उल्लंघन करते हैं तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।


न सिलेब्रिटी ना डीजे नाइट, बदल गया न्यू ईयर सेलिब्रेशन ट्रेंड
नए साल के जश्न के तहत हर साल रायपुर में 50 से अधिक पब्लिक इवेंट होते थे। इनमें किसी ना किसी सिलेब्रिटी या फेमस डीजे का आना होता था। विदेश डांसर्स बुलाए जाते थे। होटल्स में देर रात तक पार्टी चलती थी। मगर इस बार ऐसा कुछ भी नहीं है। शहर के बड़े होटल्स सिर्फ डिनर बुफेट का आयोजन कर रहे हैं। इनमें भी लिमिटेड संख्या में लोगों को एंट्री दी जाएगी। लोकल म्यूजिकल ग्रुप्स को परफॉर्मेंस के लिए जरूर बुलाया जा रहा है ताकि लोग खाने के वक्त लाइव बैंड का लुत्फ ले सकें।


इवेंट प्लानर सृष्टि जैन का कहना है कि लोग सार्वजनिक जगहों पर जाना पसंद नहीं कर रहे। वो अपने फॉर्म हाउस या घर की छत पर ही फैमेली के साथ गेट टू गेदर प्लान कर रहे हैं। कुछ सोसाइटीज में 2 से 3 फैमिली मिलकर भी थर्टी फर्स्ट पार्टी प्लान कर रहे हैं। होटल मेरियट के जीएम रजनीश कुमार का कहना हैं कि इस बार न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए लॉबी में डेकोरेशन किया जाएगा और लोगों को डिनर सर्व किया जाएगा। गाइड लाइन के अनुसार 200 लोगों को ही एंट्री दी जाएगी।


होटल सेलिब्रेशन के मैनेजर विश्वजीत का कहना हैं कि इस बार सिर्फ लॉबी में बुफेट सिस्टम का आयोजन रहेगा। जिसमें 50% लोगों को ही एंट्री दी जाएगी लोकल आर्टिस्ट लाइव सिंगिंग का प्रोग्राम पेश करेंगे। कुशालपुर स्थित एक होटल के ओनर राजेंद्र पारख का कहना हैं कि सरकारी गाइडलाइन के अनुसार ही सादगी भरे आयोजन होंगे। सेलिब्रेशन के लिए हमने इंडोर व्यवस्था की है । फ्लावर और बैलून डेकोरेशन होगा इस बार कोई सेलिब्रिटी नहीं आएंगे सिर्फ 150 लोगों को ही एंट्री दी जाएगी। लाइट म्यूजिक पर लोग सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए डांस करेंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर रायपुर के सिविल लाइंस थाने के सभा कक्ष की है। अधिकरियाें ने इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल के पालन पर जोर दिया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mXUMTU

0 komentar