कालीबाड़ी से जयस्तंभ, निगम मुख्यालय से बूढ़ेश्वर चौक तक अंडरग्राउंड होंगे केबल , December 30, 2020 at 06:41AM

बिजली के तारों को अंडरग्राउंड करने का काम अब सिर्फ कोतवाली से जयस्तंभ चौक तक नहीं होगा, बल्कि इसका दायरा आगे तक बढ़ा दिया गया है। अब कालीबाड़ी चौक से लेकर कोतवाली तथा यहां से जयस्तंभ चौक तक पूरी सड़क में बिजली के तार अंडरग्राउंड होंगे। यही नहीं, निगम मुख्यालय से बूढ़ापारा चौक होते हुए बूढ़ेश्वर चौक तक की अंडरग्राउंड केबलिंग होगी। यहां भी सड़कों पर बिजली के तार जाल की तरह फैले हुए हैं और कई बार इनसे लोगों की सुरक्षा को भी खतरा हो रहा है। इसे दूर करने तथा सड़कों को व्यवस्थित करने के लिए सड़कों की अंडरग्राउंड केबलिंग का काम जनवरी से शुरू कर दिया जाएगा।
शहर में अब तक छोटे-छोटे हिस्सों में बिजली के तारों को अंडरग्राउंड किया गया है, जिससे उन जगहों की खूबसूरती बढ़ी है। महापौर एजाज ढेबर ने सोमवार को कोतवाली से जयस्तंभ चौक तक बिजली के तारों को अंडरग्राउंड करने की घोषणा की थी और अफसरों को अगले महीने से काम शुरू करने के निर्देश भी दिए थे। इसी प्रोजेक्ट का दायरा बढ़ा गया है। मेयर न अफसरों को बुलाकर अंडरग्राउंड केबलिंग कालीबाड़ी चौक से जयस्तंभ चौक तथा निगम मुख्यालय से बूढ़ेश्वर चौक तक करने का प्रस्ताव बनाने के लिए भी कह दिया है।

दिक्कत न हो, इसलिए रात में काम
बिजली कंपनी और नगर निगम ने मिलकर पांच प्रोजेक्ट में बिजली सप्लाई व्यवस्था को पूरी तरह अंडरग्राउंड किया है। एक्जीक्यूटिव इंजीनियर मनोज वर्मा के अनुसार कोतवाली चौक में बिजली के तार रात में अंडरग्राउंड किए गए, वह भी सिर्फ दो दिन में। कलेक्टोरेट गार्डन, मल्टीलेवल पार्किंग तथा जवाहर बाजार में भी अंडरग्राउंड केबलिंग की गई है। अब किए जाने वाले काम पैचेस में किए जाएंगे। निगम कमिश्नर ने कोतवाली से जयस्तंभ चौक तक के प्रोजेक्ट का प्रपोजल सिटी सर्किल-1 के अधीक्षण अभियंता एके लखेरा को भेज दिया है।
सिविल वर्क निगम करेगा, केबलिंग कंपनी
इस प्रोजेक्ट में सिविल वर्क नगर निगम करेगा तथा केबलिंग का काम बिजली कंपनी करेगी। अफसरों के अनुसार अंडरग्राउंड केबलिंग के लिए सड़क के दोनों किनारे में डक्ट बनाया जाएगा। इस डक्ट के भीतर ही बिजली के तार और अन्य तरह के केबल इत्यादि रहेंगे।

शास्त्री बाजार में फिर चला बुलडोजर
शास्त्री बाजार में मेन रोड पर जगह खाली करवाने के लिए तथा पिछले हिस्से में प्रस्तावित मटन मार्केट के लिए निगम ने मंगलवार को फिर बुलडोजर चलाया और दो दर्जन से ज्यादा कब्जे हटा दिए। पिछले हिस्से में 12 मकानों को तोड़ा गया और परिवारों को भाठागांव ढेबर सिटी में बीएसयूपी के मकानों में शिफ्ट कर दिया गया। जवाहर बाजार के पीछे के मटन मार्केट को शास्त्री बाजार के पिछले हिस्से में शिफ्ट किया जाना है। इसलिए यहां से सभी परिवार हटा दिए गए। निगम अफसरों के अनुसार नए जवाहर बाजार-2 का काम जल्द शुरू किया जाना है। यहां पीछे कारोबार करने वाले मटन व्यापारियों को शास्त्री बाजार के पीछे शिफ्ट किया जा रहा है। इसलिए शास्त्री बाजार में कब्जेधारियों को आज हटाया गया। निगम अमले ने मेन रोड में एवरग्रीन चौक के पास फलों के ठेले लगाकर सड़क जाम करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की। शास्त्री बाजार रोड, एवरग्रीन चौक तथा उसके आस-पास मेन रोड में कब्जों की वजह से लोगों को काफी दिक्कत हो रही है। निगम जोन-4 अमले को इस संबंध में शिकायत मिली थी। साथ ही शास्त्री बाजार के अंदर चबूतरे में न बैठकर बाहर व्यवसाय करने वाले सब्जी व्यापारियों को भी सड़क से हटाकर चबूतरे में भेजा गया।

मालवीय रोड के साथ अन्य सड़कों में भी अंडरग्राउंड हो तार : बृजमोहन
पूर्व मंत्री व दक्षिण विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि केंद्र सरकार से स्मार्ट सिटी के लिए मिले 100 करोड़ रुपए से स्मार्ट सिटी लिमिटेड को शहर की मूलभूत सुविधाएं विकसित करनी चाहिए। केवल मालवीय रोड ही नहीं, बल्कि जीई रोड, सदर बाजार रोड, एमजी रोड, मौदहापारा रोड, शास्त्रीबाजार रोड, बैजनाथ पारा रोड, मोतीबाग रोड, छोटापारा रोड़, बूढ़ापारा रोड पुरानी बस्ती रोड, स्टेशन रोड तथा रामसागरपारा तात्यापारा की सड़कों में भी बिजली के तारों को अंडरग्राउंड किया जाना चाहिए। स्मार्ट सिटी के फंड को भवन, पुराने भवनों की मरम्मत, बेतरतीब सौंदर्यीकरण, पेवर ब्लॉक आदि पर खर्च नहीं करना चाहिए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
शास्त्री बाजार में कब्जे हटाता निगम का अमला।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3pwBBCo

0 komentar