अवैध रूप से रेत ढोते ट्रक ने युवक को कुचला , December 31, 2020 at 06:39AM

रेत का अवैध परिवहन करते ट्रक ने लोफंदी में युवक को कुचल दिया। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने मौके पर जमकर हंगामा मचाया और प्रशासन से अवैध रेत परिवहन पर रोक लगाने की मांग की। सूचना मिलते ही जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा ग्रामीणों के साथ पहुंचे और अतिरिक्त तहसीलदार से अवैध रेत का कारोबार करने वालों की शिकायत की। पीड़ित परिवार को अंतिम संस्कार के लिए 10 हजार रुपए दिया गया। घटना बुधवार की सुबह करीब 8 बजे कोनी थाना क्षेत्र में हुई। ग्राम लोफंदी निवासी सलमान मोहम्मद पिता जब्बार मोहम्मद 22वर्ष सुबह अपने घर से बाहर खड़ा था। इसी दौरान वहां रेत से भरा ट्रक पहुंचा और जोरदार टक्कर मारा। इससे वह डंपर के पहिए के नीचे आ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उसके उपर से ट्रक का अगला पहिया निकल गया था। जैसेही हादसे की खबर ग्रामीणों को मिली वहां भीड़ जुटने लगी। इस बीच सूचना मिलने पर कोनी पुलिस भी पहुंची। अतिरिक्त तहसीलदार शेष नारायण जायसवाल भी मौके पर पहुंच आए ग्रामीणों को समझाइश देने का प्रयास किया। उन्होंने पीड़ित परिवार को अंतिम संस्कार के लिए 10 हजार रुपए दिया। इससे पहले भी इस इलाके में अवैध रेत परिवहन से तीन लोगों की जान जा चुकी है।

रफ्तार पर भी लगाम नहीं
अवैध रेत उत्खनन के लिए चल रहे डंपर लोफंदी,कछार,घुटकू,निरतू में गांवों से होकर गुजरती है। सड़क के आसपास बड़ी संख्या में लोग रहते हैं और उन्हें आए दिन जान का खतरा रहता है। उनके घरों में गाड़ियों से रेत उड़कर जाता है। रसूखदारों की गाड़ियां होने के कारण उनकी रफ्तार पर भी लगाम नहीं है।

अवैध परिवहन में कोनी पुलिस की भूमिका संदिग्ध
कोनी थाना क्षेत्र में रेत का अवैध परिवहन जोरों पर हैं। अवैध रेत घाट संचालित करने के एवज में कोनी पुलिस गाड़ी वालों से मोटी रकम वसूलती है। यह काम रातभर चलता है। इसके लिए थाना के सामने दो तीन सिपाही खड़े रहते हैं जो गाड़ी भी पार कराते हैं।

अतिरिक्त तहसीलदार के लिखित में आश्वासन के बाद शांत हुए ग्रामीण
ग्रामीणों को शांत करने जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा की मांग पर अतिरिक्त तहसीलदार ने अवैध रेत परिवहन बंद करने लिखित में आश्वसान दिया।

रसूखदार नेता की खदान
स्थानीय लोगों ने बताया कि ट्रक और अवैध रेत खदान कांग्रेस के रसूखदार बड़े नेता की है। यही कारण है कि खनिज विभाग भी मुंह बन्द कर बैठा है। बार बार जानकारी के बाद भी खदान संचालक के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गयी। यदि प्रशासन पहले ही कार्रवाई कर देता तो आज सलमान हमारे बीच होता।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/37YGkXC

0 komentar