भाजपा का एलान 13 को विधानसभा स्तर और 22 जनवरी को पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालय स्तर पर होंगे विरोध प्रदर्शन , January 06, 2021 at 06:36PM

रायपुर के भाजपा कार्यालय में बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई। इस दौरान विपक्ष के नेताओं ने कहा कि सरकार के रवैये की वजह से प्रदेश का किसान परेशान है। किसान दुख में है, उसके दर्द के हम साथ हैं। अब भारतीय जनता पार्टी इसे लेकर बड़ा विरोध प्रदर्शन पूरे छत्तीसगढ़ में करने जा रही है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय और नेता प्रतिपक्ष धरम लाल मीडिया से मुखातिब हुए।

दोनों नेताओं ने बताया कि 13 को राज्य की सभी 90 विधानसभाओं में और 22 जनवरी को सभी जिला मुख्यालयों में सरकार के खिलाफ धरना, रैली और विरोध प्रदर्शन होगा। मुद्दा किसानों से जुड़ा है। भाजपा का दावा है कि हर दिन प्रदेश के कई केंद्रों से अव्यवस्था की खबरें आ रही हैं। इन प्रदर्शनों को लेकर 7 जनवरी को पार्टी के हर जिला दफ्तर में बैठक होगी। इसके बाद 19 तारीख को विधानसभा स्तर के बड़े नेता बैठक में शामिल होकर प्रदर्शन की तैयारियों पर बात करेंगे।


इस सरकार की बुनियाद झूठी
नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने बताया कि राज्य सरकार दावा कर रही है कि केंद्र की तरफ से बारदाना न मिलने की वजह से धान खरीदी के काम में अव्यवस्था उत्पन्न हो रही है। धरमलाल ने इस दावे को सरासर झूठ करार देते हुए कहा कि राज्य सरकार पर ही बारदाने की व्यवस्था करने का जिम्मा होता है। केंद्र सरकार बारदाने नहीं देती, पिछले 15 सालों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने धान की खरीदी की है। इस तरह की कोई समस्या नहीं आई। मौजूदा भूपेश बघेल की सरकार बारदानों को लेकर भ्रम फैलाने का काम कर रही है। किसानों को भुगतान नहीं किया जा रहा है। इस वजह से किसान परेशान हैं और आत्मघाती कदम उठाने को मजबूर है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर भाजपा कार्यालय की है। नेताओं ने हर मोर्चे पर मौजूदा सरकार को विफल बताया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bd1wuR

0 komentar