भाजपा फाइव स्टार वर्किंग वाली पार्टी नहीं, हर माह 7 दिन जिलों में बिताएं सभी प्रभारी , January 04, 2021 at 06:13AM

छत्तीसगढ़ के दूसरे दौरे पर आईं भाजपा प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी और सह प्रभारी नितिन नवीन ने सभी पदाधिकारियों और सह प्रभारियों को दो टूक कहा कि भाजपा एसी में बैठने वालों या फाइव स्टार वर्किंग वाली पार्टी नहीं है। सभी प्रभारियों को हर महीने सात दिन अपने प्रभार वाले संभाग-जिले में 7 दिन बिताना होगा। बूथ और शक्ति केंद्रों तक जाना होगा। प्रभारी ने मोर्चा व जिलों में निर्धारित समय-सीमा में नियुक्ति नहीं कर पाने पर नाराजगी जताई। तीन से चार दिन में मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी और जिले की कार्यकारिणी बनाने के निर्देश दिए। साथ ही, इस महीने तक हर हाल में मोर्चा-प्रकोष्ठ की मंडल स्तर पर कार्यकारिणी बनाने कहा, जिससे अगले दौरे से नियुक्तियों के बजाय आगे की रणनीति पर चर्चा हो। सह प्रभारी नितिन ने यहां तक कह दिया कि पहली बार भले ही समय-सीमा का पालन नहीं हो सका, लेकिन इसे प्रैक्टिस न बनाएं। हर काम समय पर करें। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, संगठन महामंत्री पवन साय सहित पदाधिकारी मौजूद थे। दोनों प्रभारी सुबह 9.30 बजे एयरपोर्ट पहुंचे। पूर्व मंत्री राजेश मूणत, महामंत्री नारायण चंदेल, किरण देव, भूपेंद्र सवन्नी, मोतीलाल साहू, श्रीचंद सुंदरानी, संजय श्रीवास्तव ने उनका स्वागत किया। इसके बाद कुशाभाऊ ठाकरे परिसर पहुंचीं।

जिलों में नियुक्तियों का होगा रिव्यू, एक-एक पदाधिकारी का परफॉर्मेंस देखेंगे
प्रदेश प्रभारी ने बैठक के दौरान यह कहकर सबको चौंका दिया कि जिलों में जो नियुक्तियां हुई हैं, उनका रिव्यू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसा न हो कि जो बार-बार चक्कर लगाता रहा, उसे पद दे दिया गया। सभी का परफॉर्मेंस देखा जाएगा। यह भी संकेत हैं कि कामकाज संतोषजनक नहीं होने पर पद से हटाया जा सकता है। प्रभारियों की बैठक के दौरान एससी मोर्चा के प्रभारी निर्मल सिन्हा ने कम्यूनिकेशन गैप की शिकायत की। इस संबंध में उन्होंने व्यक्तिगत रूप से सभी विषय रखने की बात की।

एससी छात्रों को पढ़ाई के लिए केंद्र बैंक खाते में देगा राशि, योजना लागू: भाजपा
आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण पढ़ाई छोड़ने वाले एससी छात्रों को मदद पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने नई योजना शुरू की है। इसके अंतर्गत अब छात्रों को एडमिशन के दौरान जून-जुलाई में सीधे बैंक खाते में राशि ट्रांसफर की जाएगी। इसके लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 35534 करोड़ का प्रावधान किया है। रायपुर सांसद सुनील सोनी और एससी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष नवीन मार्कण्डेय ने रविवार को पत्रकारों से चर्चा में पीएमएस-एससी योजना के बारे में जानकारी दी। सांसद सोनी ने कहा कि देश में एससी वर्ग के 1.36 करोड़ बच्चे ऐसे हैं, जो आर्थिक रूप से सक्षम नहीं होने के कारण पढ़ाई छोड़ देते हैं। आत्मनिर्भर भारत में साक्षर भारत और सभी वर्गों का योगदान जरूरी है। इसे ध्यान में रखकर ही पीएम नरेंद्र मोदी ने यह योजना शुरू की है। मार्कण्डेय ने कहा कि केंद्र से जून महीने में ही राशि जारी कर दी जाती है, लेकिन विद्यार्थियों को अक्टूबर के बाद दिया जाता है।

इस वजह से जब एडमिशन के दौरान फीस जमा करने या कॉपी-किताब खरीदने का समय रहता है, तब उनके पास पैसे नहीं होते। इसे ध्यान में रखकर ही एडमिशन के दौरान ही सीधे छात्र के बैंक खाते में पैसे डाले जाएंगे। इस योजना का लाभ दसवीं बारहवीं के साथ यूजी और पीजी सभी विद्यार्थी उठा सकेंगे।

28 लाख टन चावल किस मंत्री के गोदाम में
सह प्रभारी नितिन नवीन ने राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले साल का 28 लाख मीट्रिक टन चावल किस चहेते मंत्री के गोदाम में रखा है। तीन बार समय बढ़ाने के बावजूद आखिर सरकार जमा क्यों नहीं कर पाई, यह सीएम भूपेश बघेल को बताना चाहिए। केंद्र सरकार ने 9000 करोड़ रुपए जारी कर दिए हैं, फिर भी किसानों को अब तक धान का भुगतान नहीं किया गया है। नितिन ने कहा कि सबसे पहले राज्य सरकार को ये बातें स्पष्ट करनी चाहिए, फिर आगे बात करनी चाहिए। भाजपा किसानों का अहित नहीं होने देगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
BJP not a five star working party, spend 7 days every month in districts, all in charge


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/388iEjq

0 komentar