भाजपा सांसदों को घेरने की तैयारी में कांग्रेस, जिलाध्यक्ष ने BJP से पूछा- बताएं किसान न्याय योजना का समर्थन करते हैं या विरोध , January 06, 2021 at 09:57PM

छत्तीसगढ़ में धान खरीदी जारी है। उसी के साथ धान पर राजनीति भी चल रही है। रायपुर शहर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष गिरीश दुबे और रायपुर नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे ने आज भाजपा को घेरा। जिलाध्यक्ष ने भाजपा नेताओं से पूछा, वे राजीव गांधी किसान न्याय योजना का समर्थन करते हैं या विरोध।

इस योजना के जरिए सरकार धान, गन्ना और मक्का उत्पादक किसानों को किस्तों में प्रति एकड़ 10 हजार रुपए की इनपुट सहायता उपलब्ध कराती है। सरकार ने पिछले साल इस योजना की शुरुआत की है। केंद्र सरकार इस योजना को बोनस के तौर पर देख रही है।

रायपुर शहर कांग्रेस के अध्यक्ष गिरीश दुबे ने कहा, छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों का धान समर्थन मूल्य में खरीद रही है। अब तक लगभग 54 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। ऐसे में भाजपा के नेता किसान विरोधी कानून से जनता का ध्यान भटका रहें है। उन्होंने कहा, भाजपा नेता किसानों का शुभचिंतक होने का ढोंग कर रहे हैं, जबकि भाजपा शासनकाल में किसान सबसे अधिक प्रताड़ित रहे हैं।

कांग्रेस नेताओं ने कहा, कांग्रेस सरकार ने पहले साल 80 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान खरीदा। दूसरे साल 83 लाख मीट्रिक टन की खरीदी हुई। इस साल 90 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी का लक्ष्य रखा है। इसको पूरा करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा, केन्द्र की मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ से 60 लाख मीट्रिक टन चावल लेने का कमिटमेंट किया था। अब मात्र 24 लाख मीट्रिक टन चावल लेने की अनुमति दी है। यह भाजपा का किसान विरोधी चेहरा दिखा रहा है। प्रमोद दुबे का कहना था, भाजपा की राज्य इकाई केंद्र सरकार से मिलकर खरीदी में व्यवधान डालने की कोशिश कर रही है।

सांसदों के घेराव की रणनीति दो दिन बाद

जिला कांग्रेस के प्रवक्ता बंशी कन्नौजे ने बताया, दो दिनों के बाद कांग्रेस भवन में एक महत्वपूर्ण बैठक होनी है। इसमें धान खरीदी के मुद्दे पर भाजपा सांसद सुनील सोनी के घेराव की रणनीति बनेगी। रविवार को हुई कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में यह कार्यक्रम तय हुआ था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कांग्रेस ने प्रदेश भर में जिला संगठनों के जरिए प्रेस से बात की है। इसके बाद कांग्रेस खरीदी केंद्रों में जाकर किसानों से भी बात करेगी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38mf2ux

0 komentar