बीजापुर में चीटियों का घरौंदा तोड़ रही थी बुजुर्ग महिला करंट की चपेट में आई; CRPF जवान ने CPR देकर बचाई जान , January 08, 2021 at 05:38AM

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में गुरुवार को लाल चीटियों का घरौंदा तोड़ने के दौरान एक बुजुर्ग महिला करंट की चपेट में आ गई। महिला वहीं बेहोश होकर गिर पड़ी। इस पर सूचना मिलने पर CRPF के जवान मौके पर पहुंच गए और महिला को CPR (कार्डियोपोल्मेनरी रिसेसेटेशन) देकर जान बचाई। महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक, कोइटपाल में गुरुवार को एक बुजुर्ग आदिवासी महिला चिमरी लेकाम पेड़ पर बने चींटियों के घोंसले को हरे बांस से तोड़ रही थी। इस दौरान वहां से गए 11 केवी तार से बांस टकरा गया और महिला करंट के चपेट में आ गई। CRPF 222वीं बटालियन कैंप से करीब 100 मीटर की दूरी पर हुए हादसे की जानकारी जवानों को हुई तो वे पहुंच गए।

महिला को एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया
कंपनी कमांडेंट भाकल सहित अन्य जवानों ने महिला को करंट से अलग किया। तब तक महिला बेहोश हो चुकी थी। इस पर जवानों ने महिला को CPR और कृत्रिम सांस देकर उसकी जान बचाई। फिर 108 एंबुलेंस को कॉल कर महिला को जिला अस्पताल भिजवाया। इसके बाद ग्रामीणों ने जवानों के धन्यवाद देते हुए आभार जताया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में CRPF जवानों ने CPR देकर करंट से बेहोश हुई बुजुर्ग आदिवासी महिला की जान बचाई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3biFpn4

0 komentar