चेक पेमेंट का सिस्टम बदला, बड़ी गाड़ियां महंगी, ई-वे बिल आसान , January 03, 2021 at 05:46AM

नया साल शुरू होने के साथ वित्तीय कामों के लिए कई तरह के बदलाव किए गए हैं। बैंकों के साथ ही
वित्तीय संस्थाओं ने नए नियमों के साथ ही सॉफ्टवेयर को भी अपडेट कर दिया है। बैंकों में 50 हजार से ज्यादा की रकम चेक से निकालने पर उसकी पुष्टि दो बार की जाएगी। ऐसे कारोबारी जिनका टर्नओवर हर महीने 50 लाख से अधिक है उन्हें टैक्स की एक फीसदी रकम का भुगतान कैश देना होगा।

एलपीजी सिलेंडर साल के पहले दिन ही महंगे हो गए हैं और अब कारों समेत सभी दो पहिया गाड़ियों की कीमत भी 5 फीसदी तक बढ़ गई है। कई नियमों का कारोबारियों के साथ ही आम लोगों ने भी विरोध शुरू कर दिया है। हालांकि सभी नियम केंद्र सरकार की ओर से बदले गए हैं इसलिए केंद्रीय वित्त और वाणिज्य मंत्री को चिट्ठी भी लिखी गई है।

आयकर, सीए और कारोबारी संगठनों के अनुसार जीएसटी में नए रजिस्ट्रेशन को लेकर भी कई बदलाव शुरू हो गए हैं। ऐसा पहली बार हो रहा है जब ई-वे बिल की लिमिट एक दिन में 100 किमी से बढ़कर 200 किमी कर दी गई है। यानी अब 200 किमी तक माल को लाने- ले जाने में ई-वे बिल की जरूरत नहीं होगी। इससे छोटे कारोबारियों का काम आसान होगा।

बैंकों में चेक से होने वाले फ्रॉड को रोकने के लिए डबल चेक सिस्टम पॉजिटिव पे सिस्टम लागू कर दिया गया है। 50 हजार और इसके ऊपर की रकम का भुगतान चेक से करने पर नियम लागू होगा। इस साल से देशभर में लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल करने के लिए मोबाइल नंबर को डायल करने से पहले जीरो लगाना होगा। जीरो नहीं लगाने पर मोबाइल पर कॉल नहीं जाएगा।

जीएसटी रिटर्न दाखिल करने में राहत

अभी तक कारोबारियों को एक साल में 12 बार यानी हर महीने 4जीएसटीआर-3बी रिटर्न दाखिल करना पड़ता था। लेकिन 2021 से अब 4जीएसटीआर-3बी रिटर्न साल में केवल चार बार दाखिल करना पड़ेगा। केंद्र सरकार ने जीएसटी रिटर्न फाइलिंग प्रोसेस को ज्यादा आसान बनाने के लिए ही क्वार्टरली फाइलिंग ऑफ रिटर्न विद मंथली पेमेंट योजना लागू की है। इस योजना का फायदा 5 करोड़ रुपए सालाना टर्नओवर तक वाले कारोबारी उठा सकते हैं।

चेक से भुगतान अब ऐसे

1 जनवरी से चेक से भुगतान करने के नियमों में भी बदलाव कर दिया गया है। नए नियम के अनुसार 50 हजार से ज्यादा भुगतान वाले चेक के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम लागू किया गया है।

यानी 50 हजार से ज्यादा के चेक के लिए जरूरी जानकारी की पुष्टि दोबारा की जाएगी। यानी पेमेंट लेने और देने वालों का क्रॉस चेक किया जाएगा। नया नियम चेक पेमेंट को ज्यादा सुरक्षित बनाने और बैंक धोखाधड़ी रोकने के लिए बनाया गया है।

गाड़ी खरीदना महंगा हो रहा

नए साल की शुरुआत से ही कारें और दोपहिया गाड़ी खरीदना महंगा हो गया है। ऑटोमोबाइल कंपनियां नए साल में कई मॉडलों की कीमत 5 फीसदी तक बढ़ा रही है। इसलिए अब कारें महंगी हो जाएंगी।

जो कंपनियां अपने कारों के दाम बढ़ा रही हैं उनमें मारुति, निसान, रेनो इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, इसूजू, ऑडी इंडिया, फॉक्सवैगन, फोर्ड इंडिया और बीएमडब्लयू इंडिया शामिल हैं। इसके अलावा टूव्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प भी बाइक-स्कूटर की कीमतें बढ़ा रही हैं।

मोबाइल एप से भुगतान 5 हजार तक

डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए कॉन्टैक्टलेस कार्ड से पेमेंट करने की सीमा 2000 से बढ़ाकर 5000 कर दी गई है। यानी मोबाइल में उपलब्ध कई तरह के एप से लोग एक साथ पांच हजार रुपए का लेन-देन कर सकते हैं। यह रकम खातों से ट्रांसफर की जा सकेगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Check payment system changed, big vehicles are expensive, e-way bill easier


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3pFohM7

0 komentar