पांच साल पहले के घाेटाले में बैंक मैनेजर बर्खास्त , January 04, 2021 at 05:55AM

घुटकू बचत बैंक में पांच साल पहले एक करोड़ 72 लाख रुपए के आर्थिक अनियमितता के मामले में शाखा प्रबंधक गणेश लाोनिया को बर्खास्त कर दिया गया है। पहले उन्हें तीन साल के लिए सस्पेंड किया गया था, जिसके बाद सहकारी संस्था के ज्वाइंट रजिस्ट्रार ने नियमों का हवाला देते हुए उनके खिलाफ यह कार्रवाई की है। उन्होंने घुटकू में पीडीएस का चार्ज अमन कुमार भाेई देने के निर्देश दिए हैं। ऐसा नहीं करने पर उनके खिलाफ फिर से पुलिस को मामले को सौंपने की बात कही गई है। घुटकू सहकारी बचत बैंक में 2010-11 से 2014-15 के बीच करीब 1 करोड़ 72 लाख रुपए गड़बड़ी की शिकायतें मिली थी। शिकायत पर कोनी पुलिस ने घुटकू बचत बैंक समिति के उपाध्यक्ष हीरालाल लोनिया, बचत बैंक प्रबंधक परमेश्वर यादव, समिति बचत बैंक प्रबंधक नंद कुमार यादव, कौशल यादव रिटायर्ड सुपरवाइजर व उपाध्यक्ष बचत बैंक समिति गणेश लोनिया, शाखा प्रबंधक सिंधू पिल्लू ,शशांक दुबे और राज किशोरी एक्का के खिलाफ धारा 406, 409 के तहत जुर्म किया था। कोनी पुलिस ने इनमें से हीरालाल लोनिया, परमेश्वर यादव, नंद कुमार यादव, गणेश लोनिया को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया।

सीबीआई की जांच ठंडी बचत बैंकों की रिपोर्ट नहीं
हाईकोर्ट के निर्देश पर जिले के बचत बैंकों में हुई गड़बड़ियों की जांच सीबीआई की टीम कर रही है। सीबीआई ने अभी कई बचत बैंक की जांच के मामले में अपनी रिपोर्ट नहीं सौंपी है। कहीं किसी बचत बैंक के अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर की बात सामने जरूर आई है, पर सीबीआई के अधिकारी फिलहाल की पुष्टि नहीं कर रहे। इसलिए ही यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि कहां कितने की आर्थिक अनियमितता है। सहकारी बैंक के अधिकारी भी इस मामले में खामोश हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/389Rt7Q

0 komentar