धर्मपुरा गांव में बदमाशों ने सतनामी समाज के मंदिर में आग लगाई, मंत्री अकबर से मिले धर्मगुरू बालदास , January 05, 2021 at 01:58PM

छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले के धर्मपुरा गांव में साम्प्रदायिक विवाद फिर भड़क उठा है। रविवार-सोमवार की दरमियानी रात बाइक से आए दो अज्ञात बदमाशों ने गांव में स्थित सतनामी समाज के धर्मस्थल में आग लगा दी। इसके बाद से गांव में तनाव की स्थिति है। इस बीच सतनाम पंथ के धर्मगुरु बालदास साहब, युवराज गुरु खुशवंत साहब और राजमहंत संतन दास ने रायपुर में वन मंत्री मोहम्मद अकबर से मुलाकात की।

इस मुलाकात में धर्मगुरुओं ने आगजनी करने वाले तत्वों की तत्काल गिरफ्तारी कर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। मंत्री मोहम्मद अकबर ने उन्हें बताया कि सरकार ने आगजनी की इस घटना को गंभीरता से लिया है। पुलिस और प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम गठित कर दी गई है।

इधर प्रशासन ने धर्मपुरा गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है। प्रशासन समाज के लोगों की नाराजगी दूर करने की कोशिश कर रहा है। पिछले 27 नवम्बर को धर्मपुरा गांव में के इसी धर्मस्थल से लगे एक सामाजिक भवन को प्रशासन ने अतिक्रमण बताकर तोड़ दिया था। उसके बाद से ही सतनामी समाज आंदोलित है।

कवर्धा से लेकर राजधानी रायपुर तक प्रदर्शन हुए। गुरु बालदास और दूसरे समाज प्रमुखों से चर्चा के बाद उस विवाद का समाधान हो गया था। प्रशासन ने सतनामी समाज को दूसरी जगह भूमि आवंटित करने को कह दिया था। इस ताजे विवाद ने समाज को बुरी तरह भड़का दिया है।

सीसीटीवी में आई है धुंधली तस्वीर
कवर्धा एसपी शलभ कुमार सिन्हा ने बताया कि घटना स्थल के पास धान खरीदी केंद्र में सीसीटीवी कैमरा लगा है। लेकिन उसमें साफ तस्वीरें नहीं आई है। गांव में पहुंचने के रास्ते में जहां भी सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, उनकी फुटेज जांची जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मोहम्मद अकबर और पंथ के धर्मगुरुओं के बीच कई दौर की चर्चा के बाद धर्मपुरा में सतनामी समाज का भवन तोड़े जाने के विवाद का पटाक्षेप हुआ था। ताजे हमले ने सरकार को भी उलझन में डाल दिया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bh9q6m

0 komentar