महान टू कोल माइंस में ब्लास्टिंग से पास की छुई खदान धंसी, महिला की मौत, दो गंभीर , January 10, 2021 at 05:51AM

बलरामपुर जिले के परसवार कला के महान टू कोल माइंस के पास एक अवैध छुई मिट्टी खदान के कोयला खदान में ब्लास्टिंग के दौरान धंसकने से एक महिला की मौत हो गई। दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। तब वहां 10 से अधिक महिलाएं थीं, जो बाल-बाल बच गईं। खदान में शुक्रवार को दोपहर में 4 ट्रैक्टर-ट्राॅली में छुई मिट्टी लेने के लिए धंधापुर, परसवार, खोडरों गांव की महिलाएं खदान गईं थीं, जो महान टू कोल माइंस का लीज एरिया है।

3 बजे जैसे ही कोयला खदान में ब्लास्ट किया, इसके कुछ मिनट में छुई खदान का ऊपरी हिस्सा दब गया और बाहर मिट्टी गिरने लगी। इससे खदान के अंदर से मिट्टी निकाल रही 32 वर्षीय भगमेंन की मौत हो गई। काफी मशक्कत के बाद उसकी लाश निकाली जा सकी।

वहीं उसी समय खदान के मुहेड़ा में उससे मिट्टी को लेकर बाहर निकाल रही धंधापुर उड़माडांड निवासी सुड्डी और एक अन्य महिला गंभीर रूप से घायल हो गईं, उन्हें अंबिकापुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सुड्डी नामक महिला के दोनों पैर टूट गए हैं। महिलाओं ने बताया कि घटना के बाद हो-हल्ला होने लगा और फिर भगमेंन को अस्पताल राजपुर ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

...तो और लोगों की भी जा सकती थी जान

बताया गया है कि सुबह से मिट्टी लेने गईं आधी महिलाएं वहां से दो ट्राॅली में मिट्टी लेकर घटना से कुछ देर पहले निकल गईं थीं, वरना खदान के अंदर होने पर और भी महिलाओं की जान जा सकती थी। यहां पहले भी ऐसी घटना हो चुकी है, आसपास गांव की महिलाएं घरों की पोताई के लिए यहां मिट्टी लेने पहुंचती हैं। इसके बाद भी असुरक्षित तरीके से कोयला खदान के पास चल रहे इस अवैध मिट्टी खदान को बंद कराने का प्रयास नहीं किया गया।

सुरक्षाकर्मियों की बात नहीं मानते लोग: सब एरिया मैनेजर आरएस गुप्ता ने कहा है कि खदान के आसपास के लोग सुरक्षा कर्मियों की बात नहीं मानते हैं, उन्हें खदेड़कर भागते हैं। पुलिस में भी रिपोर्ट लिखाते हैं, लोगों को अपनी सुरक्षा का ख्याल रखना चाहिए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hZc2an

0 komentar