बिलासपुर जिले में भारी रहा भाजपा का पलड़ा , January 11, 2021 at 05:48AM

निकाय चुनावों में बिलासपुर जिला में भाजपा का पलड़ा भारी रहा है। भाजपा ने 3-1 से बाजी मारी है। सदर के विधायक सुभाष ठाकुर, झंडूता के विधायक जेआर कटवाल और नयनादेवी के पूर्व विधायक रणधीर शर्मा के गृह क्षेत्रों में भाजपा ने निकायों पर कब्जा कर लिया है। अलबत्ता, खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग के गृह क्षेत्र घुमारवीं में सत्ता पक्ष को शिकस्त झेलनी पड़ी है।

11 सदस्यीय बिलासपुर नगर परिषद के 7 वार्डों में भगवा परचम लहराया है। वहीं, कांग्रेस के खाते में 4 सीटें गई हैं। हाॅट सीट माने जा रहे वार्ड-3 में हाल ही में कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए कमलेंद्र कश्यप ने जीत हासिल की है। यह उनकी लगातार छठी जीत है। नया वार्ड और नई पार्टी होने के बावजूद उनकी यह जीत विशेष मायने रखती है। वार्ड-11 से नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष एवं जिला भाजपा महासचिव आशीष ढिल्लों को हार का सामना करना पड़ा है।

निवर्तमान अध्यक्ष सोमा देवी भी चुनाव हार गई हैं। वह वार्ड-1 में तीसरे स्थान पर रहीं। तलाई नगर पंचायत में भाजपा ने कांग्रेस को 4-2 से शिकस्त दी है। एक सीट निर्दलीय के खाते में गई है और वह भी भाजपा से ही ताल्लुक रखता है। तलाई नगर पंचायत के इतिहास में पहली बार कोई निर्दलीय प्रत्याशी जीता है। नयनादेवी नगर परिषद में भाजपा ने 7 में से 4 सीटंे जीतकर कांग्रेस का वापसी का सपना तोड़ दिया।

वहीं, घुमारवीं से केबिनेट मंत्री होने के बावजूद भाजपा को जोरदार झटका लगा है। राजेंद्र गर्ग के घर में भाजपा महज 2 सीटों पर सिमट गई है। पूर्व अध्यक्ष राकेश चोपड़ा को भी हार का सामना करना पड़ा। 7 सदस्यीय नगर परिषद में कांग्रेस के खाते में 3 सीटें आई हैं। हालांकि वार्ड-4 से जीती पूर्व अध्यक्ष रीता सहगल भी कांग्रेस से ही ताल्लुक रखती हैं। ऐसे में घुमारवीं नगर परिषद में कांगे्रस की ‘सरकार’ बनना तय माना जा रहा है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3i2GnoH

0 komentar