रायपुर SSP ने बनाया अंतरविभागीय जांच दल, पुलिस, दमकल और वैज्ञानिक अधिकारी शामिल , January 09, 2021 at 10:12PM

रायपुर के औद्योगिक क्षेत्र सिलतरा स्थित ग्रीन पेट्रो प्लांट में लगी आग ने सरकार को हिला दिया है। सामने आया है कि इस आग के सामने कई घंटों तक प्रशासनिक मशीनरी कुछ नहीं कर पाई थी। अब रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने एक अंतरविभागीय दल से इसकी जांच कराने का आदेश जारी किया है। इसमें छह अफसरों को शामिल किया गया है।

देर शाम जारी आदेश के मुताबिक इस जांच दल में उरला सीएसपी, रायपुर के वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी, अग्निशमन सेवा के DSP परवेज कुरैशी, अग्निशमन सेवा के स्पेशल टेक्निकल फायर अफसर एसजी मोहम्मद, धरसीवां के थाना प्रभारी और सिलतरा चौकी के प्रभारी शामिल हैं। इस जांच दल को प्लांट में आग लगने की वजहों की जांच करनी है। इसके अलावा उन्हें प्लांट में सुरक्षा उपायों की मौजूदगी देखने को भी कहा गया है। उन्हें यह पता लगाने को कहा गया है कि किन वजहों से समय रहते आग पर काबू नहीं पाया जा सका।

इस जांच दल को औद्योगिक क्षेत्र में इस तरह के हादसों की पुनरावृत्ति को रोकने के उपाय भी सुझाने हैं। उसके अलावा आग से सुरक्षा के प्रबंधों को बेहतर करने का भी सुझाव देना है। पुलिस अफसरों का कहना है, उनकी कोशिश है कि जांच के नतीजों से एक रोड मैप सामने आए ताकि ऐसे हादसों में जानमाल के नुकसान को कम किया जा सके। बताया जा रहा है कि यह पहला मौका है जब ऐसे हादसे की जांच के लिए अंतरविभागीय टीम बनाई गई है।

बताया जा रहा है कि ऐसा जांच दल पहली बार बनाया गया है।

सिलतरा के औद्योगिक क्षेत्र में कल शाम बड़ा हादसा हुआ था। ग्रीन पेट्रो के संयंत्र में आग लग गई। देखते ही देखते ऑयल टैंक तक आग पहुंच गई। एक के बाद एक कई धमाके हुए और आग ने पूरे परिसर को चपेट में ले लिया। करीब सात घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका था।

दहशत और गुस्से में ग्रामीण

प्लांट में भयंकर आग और धमाकों को देखकर आसपास के ग्रामीण दहशत में हैं। उनको गुस्सा भी आ रहा है। जिस टांडा गांव में प्लांट है, उसके ग्रामीणों को रात में सामुदायिक भवनों में ठहराया गया था। बताया जा रहा है, सुबह ग्रामीणों ने स्थानीय अफसरों से मुलाकात कर कारखानों को गांव से दूर करने की मांग की है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सिलतरा के ग्रीन पेट्रो में कल शाम बड़ा हादसा हुआ था। इसके ऑयल टैंक में हुए धमाकों से आसपास के इलाकों में दहशत है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38u90b3

0 komentar