घूसखोरी के आरोप में जेल में बंद पूर्व कलेक्टर इंद्रसिंह राव और पीए महावीर प्रसाद नागर के खिलाफ 565 पन्नों की चार्जशीट दाखिल, February 05, 2021 at 01:52PM

रिश्वत मामले में जेल में बंद निलंबित आईएएस इंद्रसिंह राव व पीए महावीर प्रसाद नागर के खिलाफ चालान पेश कर दिया गया। करीब साढ़े तीन सौ पन्ने के चालान में रिश्वतखोरी के सबूत के साथ तरीके बताए गए हैं। निलंबित आईएएस इंद्रसिंह राव पिछले 41 दिनों से जबकि पीए महावीर लगभग 55 दिनों से जेल में बंद है।  कोटा एसीबी ने पेट्रोल पंप की एनओसी जारी करने की एवज में 9 दिसम्बर 2020 को बारां के तत्कालीन कलेक्टर के पीए महावीर प्रसाद को 1 लाख 40 हजार की रिश्वत लेते ट्रेप किया था। पूछताछ के बाद कलेक्टर की भूमिका मिली और पीए ने अपने बयान से सबको चौंका दिया। 23 दिसंबर को पूछताछ के बाद तत्कालीन कलेक्टर इंद्रसिंह राव को गिरफ्तार कर 24 दिसम्बर को कोर्ट में पेश किया। जांच एजेंसी ने बेहद तेजी से चालान पेश किया है। 

from छत्तीसगढ़ | दैनिक भास्कर https://ift.tt/2LoHNxW

0 komentar