Connect with us

CG News

गोधन न्याय योजना से पशुपालकों की आय में वृद्धि हुई, शासकीय योजनाओं से ग्रामीणों की आर्थिक स्थिति में हो रहा सुधार, विकास प्रदर्शनी में राज्य सरकार की योजनाओं की ग्रामीणों ने की सराहना – समदर्शी न्यूज


स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के बच्चों के शिक्षा के लिए सरकार का अभूतपूर्व कदम

समदर्शी न्यूज ब्यूरो, रायपुर

साइंस कॉलेज परिसर स्थित डीडीयू आडिटोरियम में सरकार की जनहितैषी योजनाओं एवं कार्यक्रमों से लोगों के जीवन में आए बदलाव और विकास कार्यों की उपलब्धियों पर आधारित राज्य स्तरीय छायाचित्र प्रदर्शनी लगाई गई है।आज दुर्ग जिले की ग्राम दमोदा, अरानी, समोदा,ननकट्ठी,गाड़ाघाट, हिर्री,बोरई, करंजा,जनपद दुर्ग सहित विभिन्न ग्रामों से आए ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों ने फोटो प्रदर्शनी का अवलोकन कर विकास योजनाओं की सराहना की।प्रदर्शनी का अवलोकन करने आए पंचायत प्रतिनिधियों ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम से उच्च स्तरीय सुविधाओं के साथ गुणवत्तापूर्ण निःशुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल योजना कारगर साबित हो रहा है। इससे सरकारी स्कूलों के प्रति विद्यार्थियों एवं पालकों का रुझान बढ़ा है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के लोग अपने बच्चों को अंग्रेजी माध्यम की शिक्षा सरकारी स्कूलों में दिलवा कर स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

CG News

201 वाहिनी कोबरा व जिलाबल की संयुक्त कार्रवाई ने जनमिलिशिया सदस्य नक्सली को


सुकमा | (Bastar Naxalite arrested) बस्तर के सुकमा में नक्सालियों और जवानों के बीच अक्सर गोलीबारी होती रहती है. इसी बीच जिले से एक और बड़ी खबर सामने आई है. थाना चिंतलनार क्षेत्रांतर्गत जनमिलिशिया सदस्य नक्सली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इसी के साथ गिरफ्तार नक्सली से 05 किग्रा. का विस्फोट पदार्थ बरामद किया गया है. 

नक्सली की गिरफ्तारी थाना चिंतलनार के ग्राम रावगुड़ा जंगल में की गई है. साथ ही 201 वाहिनी कोबरा व जिलाबल की संयुक्त कार्रवाई से इस नक्सली को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता हासिल की है.

(Bastar Naxalite arrested) शुक्रवार को पुलिस और नक्सालियों के बीच जमकर गोलीबारी हुई थी. बताया गया था कि DRG के जवानों ने एक पुरुष माओवादी को ढेर कर दिया. यह मामला गादीरास थाना क्षेत्र का है.

जानकारी के अनुसार मारे गए माओवादी का नाम कमलेश था, जो की एरिया कमेटी मेंबर था. इस पर पांच लाख का इनाम घोषित किया गया था. पुलिस ने उसका शव बरामद कर लिया. साथ ही जवानों ने भारी मात्रा में हथियार समेत विस्फोटक बरामद किये.

ऑपरेशन मानसून के तहत DRG के जवानों को सर्चिंग के लिए निकला गया था. तभी मनकापाल के जंगल में पहुंचे तो माओवादियों ने उनपर जमकर हमला बोल दिया.

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Continue Reading

CG News

आनंद ओगरे बने कृषि मण्डी भारसाधक समिति के सदस्य – Vision News Service


कवर्धा (वीएनएस)। संचालक कृषि, विपणन भुवनेश यादव द्वारा जारी आदेश के अनुसार कृषि उपज मंडी समिति कवर्धा, जिला कबीरधाम के भारसाधक समिति में दिनेश मानिकपुरी के स्थान पर आनंद ओगरे को सदस्य नियुक्त किया गया है। इसी तरह लाला पटेल के नाम स्थान पर भागवत पटेल के नाम का आदेश जारी किया गया है। कृषि उपज मंडी समिति कवर्धा में निम्न लोग भारसाधक समिति में होंगे। अध्यक्ष-नीलकंठ साहू, उपाध्यक्ष- चोवा साहू, सदस्य- भागवत पटेल, श्रीमती रानू दुबे, संजय लिखाटे, आनंद ओगरे, रामफल कौशिक (व्यापारी प्रतिनिधि)।

Continue Reading

CG News

कलेक्टर ने किया सी-मार्ट का किया निरीक्षण – Vision News Service


हर आयु वर्ग की जरूरतों की सामान रखने के दिए निर्देश

कोरबा (वीएनएस)। जिले के नवपदस्थ कलेक्टर संजीव झा ने कोरबा नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत टीपी नगर में स्थापित सी मार्ट का निरीक्षण किया। कलेक्टर झा ने सी मार्ट में बिक्री के लिए रखे गए महिला समूहों द्वारा उत्पादित सामानों का अवलोकन किया। उन्होंने कोरबा की महिलाओं द्वारा निर्मित उमरेलिया ब्रांड साड़ी, एलईडी बल्ब, हवाई चप्पल, राशन सामान, अचार, पापड़ आदि उत्पादों का अवलोकन किया। कलेक्टर ने सी मार्ट में लोगों के लिए कम कीमत पर उत्पादों की उपलब्धता पर प्रसन्नता जताते हुए समूहों द्वारा बनाए गए सामान और उत्पादों की सराहना की। साथ ही अधिक से अधिक महिला समूह के उत्पादों को सी मार्ट में रखने के निर्देश दिए। साथ ही सी मार्ट में हर आयु वर्ग की जरूरतों के सामान रखने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने डेयरी प्रोडक्ट जैसे दूध, दही, घी, मक्खन आदि तथा बच्चों के सॉफ्ट खिलौने भी रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सी मार्ट में रखे गए सामानों की बिक्री बढ़ाने के लिए विशेष प्रचार प्रसार करने और स्थानीय उत्पादों को खरीदने के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ाने के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिए। कलेक्टर संजीव झा ने सी मार्ट की संचालन प्रक्रिया तथा बीलिंग प्रक्रिया का भी अवलोकन किया तथा उत्पादों की बिक्री बढ़ाने सी मार्ट में कार्यरत कर्मचारियों को ट्रेनिंग दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने सी मार्ट में कोसा के शिल्प उत्पादों की रेंज बढ़ाने के भी निर्देश दिए। इस दौरान एडीएम विजेंद्र पाटले, जिला पंचायत सीईओ नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय, एसडीएम कोरबा हरिशंकर पैंकरा, एसडीएम कटघोरा कौशल तेंदुलकर, एनआरएलएम जिला प्रबंधक अनुराग जैन, बीपीएम राजीव श्रीवास सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशा अनुसार महिला स्व सहायता समूहों की महिलाओं को सशक्त करने के उद्देश्य से शहर में सी मार्ट की स्थापना की गई है। सी मार्ट में महिला समूह द्वारा निर्मित और स्थानीय उत्पाद कम कीमत पर उपलब्ध है। कोरबा शहर में स्थापित सी मार्ट का संचालन पीपीपी मॉडल के तहत् किया जा रहा है। सी-मार्ट में महिला समूहों के उत्पादों की बिक्री पर समूहों को सुनिश्चित लाभ होगा। सी-मार्ट सुपर मार्केट की तर्ज पर पूरी तरह वातानुकूलित है। सी-मार्ट में उच्च गुणवत्ता युक्त उत्पाद बाजार भाव से कम दर पर उपलब्ध है। साथ ही पारंपरिक एवं स्थानीय उत्पादों को बढावा दिया गया है। जिले की महिला समूहों द्वारा बनाये गये हवाई चप्पल तथा एलईडी बल्ब भी कम कीमत पर सी-मार्ट में उपलब्ध है। सी-मार्ट में 250 से अधिक प्रकार के उत्पाद उपलब्ध है। इनमें नीम का साबुन, सेनेटरी पेड, डिसवॉस, हल्दी, मिर्ची, धनिया पाउडर, मसाले, काजू, नमकीन, चना, आटा, बेसन, जीरा फूल चांवल आदि शामिल है। सी-मार्ट मंे जिले में कार्यरत स्व सहायता समूहों द्वारा बनाए गए उत्पाद तथा स्थानीय उत्पाद सुपर मार्केट के रूप में एक ही छत के नीचे नागरिकों के खरीदी के लिए उपलब्ध है। समूहों द्वारा बनाए जा रहे स्थानीय उत्पाद जैसे अचार, पापड़, मसाले, महुआ के उत्पाद, अगरबत्ती, काजू, डेली नीड के समान, साबुन, फिनॉइल, हाइजीन प्रोडक्ट्स, सेनेटरी नैपकीन, वनोपज से निर्मित उत्पाद, अश्वगंधा चूर्ण, गिलोय, मुलेठी जैसे वन औषधि , एलोवेरा, आमला, महुआ लड्डू आदि से लेकर दैनिक उपयोग की वस्तुएं भी सी मार्ट में उपलब्ध है। साथ ही शिल्पकारों, बुनकरों, दस्तकरों, कुम्भकरों और अन्य पारंपरिक एवं कुटीर उद्योगों द्वारा निर्मित उत्पाद भी बिक्री के लिए उपलब्ध है।

Print Friendly, PDF & Email
Continue Reading

Trending