Connect with us

CG News

माहवारी स्वच्छता दिवस पर लगी किशोरियों की पाठशाला किशोरियों ने जाने विशेष दिनों में स्वच्छता के तरीके


रायपुर 28 मई 2022 । मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता के साथ साथ सही पोषण आहार लेने के बारे में किशोरियों की पाठशाला लगाकर मासिक धर्म स्वच्छता दिवस मनाया गया । इस अवसर पर स्वच्छता के संबंध में बालिकाओं और अभिभावकों को जागरूक करने के साथ ही बालिकाओं के प्रश्नों के माध्यम से आयी समस्याओं और भाँतियों का निराकरण भी किया गया ।
माहवारी स्वच्छता दिवस पर लगी पाठशाला की जानकारी देते हुए मातृ एवं शिशु चिकित्सालय कालीबाड़ी रायपुर की चिकित्सा अधिकारी डॉ.रजनी चौरसिया ने बताया: “मासिक धर्म स्वच्छता दिवस के उपलक्ष्य में किशोरियों को माहवारी से संबंधित जानकारी दी गई । इस दौरान किशोरियों को बताया गया कि गंदे कपड़े के इस्तेमाल के कारण खुजली, जलन और कई बार माहवारी के अनियमित होने की समस्या आती है । और मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता व्यवहार न अपनाने पर आगे चल कर सर्वाइकल कैंसर या गर्भाशय से संबंधित दिक्कतें भी आ सकती हैं। माहवारी के दौरान सेनेटरी पैड के इस्तेमाल से 90 फीसदी संक्रमण का खतरा कम रहता है। साथ ही सेनेटरी पैड हर चार घंटे में बदलना चाहिए। उन्होंने किशोरियों को उनके अधिकार जानने और इस उम्र में होने वाले बदलाव तथा इस दौरान किशोरियों को किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ता है के बारे में चर्चा की साथ ही हल्के फुल्के शारीरिक व्यायाम, योगा के बारे में भी जानकारी दी गयी। किशोरावस्था में शारीरिक परिवर्तन के कारण सही जानकारी नहीं होने और लोकलाज के कारण अनेक प्रकार की बीमारी हो सकती हैं। माहवारी के दौरान माताएं, बहनें और बेटियां कैसे स्वच्छ और स्वस्थ रहें तथा इन दिनों के महत्व एवं उससे जुड़ी भ्रांतियों को दूर किया गया।“
सेनेटरी पैड से होता है संक्रमण का खतरा कम
सेनेटरी पैड के इस्तेमाल से 90 फीसदी संक्रमण का खतरा कम रहता है। सेनेटरी पैड हर चार घंटे में बदलना चाहिए।मासिक चक्र के दौरान अगर स्वच्छता पर ध्यान न दिया जाए तो बच्चेदानी में संक्रमण पहुँच सकता है। इससे गर्भधारण तक बाधित हो सकता है। इन खास दिनों में होने वाले बदलावों को समझने और उसे सकारात्मक रूप से लेने के लिए किशोरियों को सही सलाह की बहुत ज़रूरत होती है।
पौष्टिक भोजन जरूरी
मासिक धर्म के दौरान आराम और पौष्टिक भोजन का सेवन करना चाहिए। पीरियड्स के समय कई बार शरीर में दर्द होता है। इसलिए गर्म पानी से नहाएं, खानपान का ख्याल रखें पाचक आहार का सेवन करें। साफ सफाई न अपनाने से यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, ल्यूकोरिया जैसी बीमारी के साथ-साथ कई प्रकार के संक्रमण हो सकते हैं।
क्यों जरूरी है आयरन
इस मौके पर आयरन के महत्व के बारे में भी समझाया गया। और एनीमिया से निपटने के लिए भी जागरूक किया गया है। 11 से 19 वर्ष तक के किशोरियों को सही पोषण आहार के साथ व्यक्तिगत स्वच्छता की जानकारी, यौन शिक्षा की आवश्यकता, किशोरावस्था के बारे में पूर्ण जानकारी होना जरूरी है। किशोरियों-बालिकाओं को फोलिक एसिड की गोलियां भी डॉक्टर की सलाह से लेना चाहिए।
क्यों मनाते है 28 मई को
इसे 28 तारीख को मनाने की खास वजह यह है कि महिलाओं को पीरियड्स 28 दिनों के अंतर से आते और 5 दिन चलते हैं। इसलिये यह दिवस 28 तारीख को और पाँचवे माह मई में मनाया जाता है ।

इस अवसर पर मातृ एवं शिशु चिकित्सालय कालीबाड़ी रायपुर श्रीमती अर्चना और श्रीमती गीता परामर्शदाता उपस्थित रही । कार्यशाला का संचालन एसएस मसीह स्टाफ नर्स द्वारा किया गया । पीजी उमठे शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ,शासकीय मायाराम सुरजन विद्यालय, शासकीय संत कंवर राम विद्यालय की लगभग 150 किशोरियों द्वारा माहवारी स्वच्छता दिवस की पाठशाला में सहभागिता रही ।

CG News

महेंद्र छाबड़ा को हफ़ीज़ खान व अनिल जैन ने दी जन्मदिन की बधाई – Vision News Service



रायपुर (वीएनएस)। छत्तीसगढ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेंद्र छाबड़ा का जन्मदिन 30 जून को हर्षोल्लास से मनाया गया और उन्हें जन्मदिन की बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई।

इस अवसर पर छत्तीसगढ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्यद्वय हफ़ीज़ खान व अनिल जैन, आयोग के सचिव एम.आर. खान, राजनांदगांव नगर निगम के पूर्व एल्डरमैन नारायण यादव सहित कार्यालय स्टाफ की उपस्थिति में केक काटकर अध्यक्ष छाबड़ा का मुंह मीठा कराकर जन्मदिन की बधाई व शुभकामनाएं देकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की गई।

Print Friendly, PDF & Email
Continue Reading

CG News

ग्राम पंचायत कोयबा में कृषि मजदूरी को लेकर निर्धारित दर तय। – छ.ग.का नंबर 1 न्यूज़ पोर्टल


तीरथ दंता /जनसंवाद /मैनपुर – विकासखण्ड मैनपुर के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र ग्राम पंचायत कोयबा में बीते मंगलवार को ग्राम वासियों द्वारा सईमेटियन जात्रा का आयोजन किया गया इस अवसर पर ग्राम पंचायत कोयबा के समस्त पारा टोला के किसान, मजदूर, सियान उपस्थित थे बैठक में मजदूर संघ द्वारा एक साल की मजदूरी दर तय किया गया साथ ही किसानी कमकाजो को लेकर आवश्यक निर्णय पारित किया गया। ग्राम मजदुर संघ ने मजदूरी को लेकर चर्चा प्रस्ताव किया गया जिसके अनुसार धान रोपाई व धान कटाई नींदाई कार्य के लिए 130 रुपये, मक्का रोपाई मक्का तोड़ाई हेतु 100 रुपए, खेत में नागर जोताई 200 रुपए, कुरलू चलाई 300 रुपए, रापा, गैंती, टंगली चलाने वाले को 150 रुपए, किसान स्वयं के गाय बैल चराई देखरेख करें चरवाहा को न दे यह प्रस्तावित किया गया है खेत में ट्रैक्टर से सुखा जोताई 1100 रुपए, केजबिल लगाकर जोताई 1200 रुपए, कुरलु कार्य 1400 रूपए निर्धारित किया गया है किसानों ने प्रत्येक रविवार को किसानी कार्य बंद रखने का निर्णय लिया है नियमानुसार कोई भी व्यक्ति टोली द्वारा नियमों का उल्लंघन करते पाए जानें पर झाकर, पुजारी, सिरहा, पटेल सियानो के साथ-साथ बनी भूति काम से वंचित किया गया एवं 10000 जुर्माना लिया जाएगा।

Continue Reading

CG News

नगर भटगांव में निकली भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा। – छ.ग.का नंबर 1 न्यूज़ पोर्टल


रुपनारायण सिंह/जनसंवाद/भटगांव

भटगांव— नगर पंचायत भटगांव में बड़े ही उत्साह के साथ स्वामी जगन्नाथ का रथ यात्रा निकाला गया… वहीं इस यात्रा में आसपास के इलाके सहित नगर के श्रद्धालु रथ यात्रा का दर्शन कर रथ खींचा….बताया जाता है की भटगांव जमींदार परिवार के शासन काल से ही नगर भटगांव में स्वामी जगन्नाथ का रथ यात्रा निकालने की परंपरा चले आ रहें हैं……जो अब तक बरकरार हैं…स्वामी जगन्नाथ का रथ यात्रा जमींदार महल के पास राधा कृष्ण मंदिर से ही निकाला जाता है जो पूरे नगर का भ्रमण करता हैं।
रथ यात्रा निकालने के पीछे का रहस्य जाना जाय तो पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सुभद्रा अपने भाइयों कृष्ण और बलराम से नगर देखने की इच्छा जाहिर की थी जिसके बाद दोनों भाई अपनी बहन सुभद्रा को रथ में बैठाकर नगर भ्रमण के लिये ले गये थे . उस दौरान रास्ते में तीनों अपनी मौंसी के घर गुंडिचा भी गये और वहाँ 7 दिन तक रुक कर नगर यात्रा करते वापस पूरी लौट आए. तब से ही हर वर्ष परंपरा अनुसार रथ यात्रा निकाला जाता हैं नगर के राधा कृष्ण मंदिर से शुक्रवार शाम 7बजे बाजे गाजे और आतिशबाजी के साथ बड़ी धूमधाम से रथयात्रा निकाली गई केसरवानी मुहल्ला, ब्राह्मण पारा,शनिमंदिर चौक, शीतला चौक, तरफ भ्रमण करते हुए पुनः राधा कृष्ण मंदिर पहुंचे।

Continue Reading

Trending