CM Bhupesh Baghel News : सीएम भूपेश बघेल आदिवासी दिवस


 

बालोद । CM Bhupesh Baghel News :  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विश्व आदिवासी दिवस कार्यक्रम में गुरुर ब्लॉक के ग्राम कोलिहामार पहुंचे । जहां समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया, संसदीय सचिव शिशुपाल सोरी, कुंवर सिंह निषाद और विधायक संगीता सिन्हा मौजूद रहे ।

मंच से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस 90 देशों में मनाया जाता है । बालोद जिले में भी बड़ी संख्या में आदिवासी रहते हैं । आदिवासियों के विकास, उन्नति और आर्थिक स्थिति को समृद्ध बनाने के लिए कांग्रेस सरकार लगातार कार्य कर रही है।

यह भी पढ़ें …

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज शिवरीनारायण के दौरे पर, लोकार्पण समारोह में होंगे शामिल

पेसा कानून में नियमावली लागू

उन्होंने कहा कि पेसा कानून जो काफी दिनों से लंबित था उसमें नियमावली बनाकर लागू किया गया है । इस पेसा कानून में अन्य जातियों की भी भागीदारी रहेगी।  20 अगस्त को राजीव गांधी किसान ने योजना की किस्त डाली जा रही है इस पैसे का उपयोग सामने आ रहे तीज पर्व में बहनों को लाभ होगा।

सीएम ने कहा कि सरकार पहले गोबर खरीदी थी अब गोमूत्र भी खरीद रही है।  सड़कों पर आवारा पशुओं की कमी आई है।  हर गांव में अधिक से अधिक दूध का उत्पादन होना चाहिए और वह दूध का उपयोग बच्चों के लिए किया जाए ताकि उसका बचपन ताकतवर बने समाज के लोगों द्वारा राजा राव पठार के लिए कई सारी मांग की गई थी जिनका टेंडर हो चुका है और निर्माण कार्य भी जारी है ।

मुख्यमंत्री ने मंच से  की बड़ी घोषणा

मुख्यमंत्री ने मंच से बड़ी घोषणा की गुरुर के ब्लाक के नारागांव के चार  स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सुकालू करियाम, सरजू मंडावी, पीतम्बर माण्डवी, बिसाहू राम के स्मृति में समाधि स्थल और सौदर्य  करण के लिए 20 लाख रुपए देने की घोषणा की ।

वहीं शासकीय महाविद्यालय गुरूर का नाम छत्तीसगढ़ की प्रथम विधायक स्व डाहरण बाई के नाम से किया जाएगा।

मुख्य मार्ग गुरुर में शहीद गैंद  सिंह के प्रतिमा के लिए 10 लाख रुपये, कन्या छात्रावास को 20 सीटर से 50 सीटर करने और छात्रावास के जीर्णोद्धार के लिए 20 लाख रुपए की स्वीकृति दी।

आदिवासी समुदायिक भवन के लिए 50 लाख की घोषणा, गुरुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए नए भवन की स्वीकृति, बालोद नगर के बूढ़ा तालाब के सौंदर्यीकरण की भी स्वीकृति दी गई ।