Hindi News Paper Live Raipur Chhattisgarh India



रायपुर। अक्टूबर को विश्व स्तन कैंसर जागरूकता माह के रूप में जाना जाता है। स्तन कैंसर महिलाओं में होने वाला सबसे आम कैंसर है। लेकिन सही समय पर इसका पता चल जाए तो इसके इलाज के बेहतर विकल्प उपलब्ध होते है और मरीज के जीवन की गुणवत्ता भी बढ़ जाती है।

एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर, विभिन्न गतिविधियों के साथ स्तन कैंसर के बारे में सक्रिय रूप से जागरूकता फैलाता रहा है। इस वर्ष स्तन कैंसर जागरूकता माह पर, एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर, ने समाज की महिलाओं के लिए आत्म-सुरक्षा कार्यक्रम का आयोजन किया।

इस कार्यक्रम के द्वारा यह अस्पताल महिलाओं को आत्म-सुरक्षा का दोहरा संदेश देना चाहता है, पहला यह है कि स्तन कैंसर जैसे अंदरूनी सेहत संबन्धित खतरे से सुरक्षा, और दूसरा बाहरी बुराई से सुरक्षा।

आत्म-सुरक्षा कार्यक्रम में कैंसर सर्वाइवरज़ को भी सम्मानित किया गया, जहां एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर, की ऑन्कोलॉजी टीम द्वारा इलाज किए गए सर्वाइवरज़ ने कैंसर से बचने और अपने जीवन की गुणवत्ता की प्रेरणादायक यात्रा का अनुभव साझा किया। यहा मोजूद सभी कैंसर सर्वाइवरज़ ने एक बात समान कही – समय पर कैंसर का पता लगाने से लोगों की जान बचाई जा सकती है। कैंसर के किसी भी लक्षण को कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

इस कार्यक्रम में 100 से अधिक महिलाओं ने भाग लिया जिसका पूरी कैंसर टीम के द्वारा समर्थन किया गया। एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर की कैंसर टीम में डॉ मौ रॉय (सीनियर कंसल्टेंट – सर्जिकल ऑन्कोलॉजी), डॉ आशुतोष दास शर्मा (कंसल्टेंट – राड़ीएशन ऑन्कोलॉजी), डॉ यशवंत कश्यप (कंसल्टेंट – मेडिकल ऑन्कोलॉजी), डॉ राजेंद्र पटेल (कंसल्टेंट – राड़ीएशन ऑन्कोलॉजी), और डॉ यश चड्डा शामिल हैं। डॉ अक्षय खिलेधर (सीनियर मेडिकल सुपेरिटेंडेंट – एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पैशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर) ने कार्यक्रम में मोजूद सभी लोगों का हौसाला बढ़ाया।

डॉ. मौ रॉय (सीनियर कंसल्टेंट – सर्जिकल ऑन्कोलॉजी) ने कहा, “हर महिला के लिए स्तन कैंसर के लक्षणो और रिस्क फ़ैक्टर्स से अवगत होना सबसे महत्वपूर्ण है। कैंसर का सही समय पर पता लगाने के लिए, महिलाओं को नियमित रूप से स्वयं स्तन की जांच करनी चाहिए।” डॉ. मौ रॉय ने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को स्तन की जांच करने का तरीका भी बताया। 

श्री तपनी घोष (फैसिलिटी डाइरेकटर – एनएच एमएमआई नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल, रायपुर) ने इस आयोजन के उद्देश्य के बारे में बताया,  एनएच एमएमआई हमेशा कैंसर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन और समर्थन करता हैं।

यह कार्यक्रम उसी मे से एक पहल है । एनएच एमएमआई मे प्रत्येक बुधवार को एक स्तन कैंसर क्लिनिक भी रहता हैं। इस क्लिनिक में स्तन कैंसर के सभी संदिग्धों के लिए निःशुल्क परामर्श और मैमोग्राफी जांच शामिल है।”