Hindi News Paper Live Raipur Chhattisgarh India



केरा में महाविद्यालय और जिला सहकारी बैंक की शाखा खोलने सहित बिजली लाईन के विस्तार की घोषणा

मुख्यमंत्री ने स्कूली बच्चों को मन लगाकर पढ़ने ओर आगे बढ़ने किया प्रोत्साहित

बैंक अधिकारी से मौके पर ही किसान के बैंक खाते की कराई जांच

मुख्यमंत्री ने केरा में नवीन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन का किया लोकार्पण

रायपुर, 19 अक्टूबर 2022/मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात के दौरान आज पामगढ़ विधानसभा के ग्राम केरा में आमजनता से रू-ब-रू चर्चा कर शासन की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में सीधे फीडबैक लिया। उन्होंने इस दौरान ग्रामीणों को उनके हित में संचालित योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित किया। मुख्यमंत्री ने इस दौरान ग्रामवासियों की मांग पर क्षेत्र के विकास के लिए अनेक कार्याें की सौगात दी। इनमें प्रमुख रूप से केरा में महाविद्यालय और जिला सहकारी बैंक की शाखा खोलने सहित बिजली लाईन के विस्तार कार्य आदि शामिल हैं।

भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान ग्राम केरा के कृषक श्री जवाहरलाल आदित्य ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे 65 डिसमिल में खेती करते हैं। मुख्यमंत्री ने जब उनसे पूछा कि आपको राजीव गाँधी किसान न्याय योजना की राशि मिली या नहीं ? बैंक में जाकर खाता चेक किए या नहीं? तो जवाहरलाल ने बताया कि वह 15 दिन पहले ही बैंक गया था ,पैसा नहीं आया है। मुख्यमंत्री ने जवाहरलाल को बताया कि इस बार दीपावली का त्यौहार मनाने न्याय योजना की राशि एक नवम्बर से पहले 17 अक्टूबर को ही सबके खाते में दे दी गई है। यह दो दिन पहले की बात है। अब जाकर खाते की जांच करियेगा। किसान ने बैंक के अधिकारियों द्वारा ठीक से व्यवहार नहीं किए जाने की बात भी कही। मुख्यमंत्री ने सहकारी बैंक के अधिकारी को तलब किया और जब किसान के खाते की जाँच कराई तो उनके खाते में राजीव गाँधी न्याय योजना से पैसा आना पाया गया। मुख्यमंत्री ने उन्हें बैंक जाकर पैसा निकालने की सलाह दी और बैंक अधिकारी को किसानों के राशि का भुगतान नियमानुसार तत्परतापूर्वक करने के सख्त निर्देश दिए।

इसी तरह ग्राम बर्रा के किसान श्री दिलेराम साहू ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्होंने 250 क्विंटल धान बेचा है। उनका 15 एकड़ का खेत है। धान बेचने के अलावा राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिली राशि से अपने मकान का निर्माण सहित विभिन्न घरेलू आयोजनों में राशि का बेहतर उपयोग किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के लिए बनाई गई योजना से उनको बेहतर लाभ मिल रहा है। इससे उनके चेहरे पर खुशी है।

अब खेत या आभूषण गिरवी रखने की जरूरत नहीं पड़ती-कृष्णा चन्द्रा

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जब कार्यक्रम में राशनकार्ड नहीं बना पाने वाले हितग्राही को खड़े होने कहा तो ग्राम पिरीद के किसान कृष्णा चन्द्रा ने अपना हाथ उठाया और मुख्यमंत्री को बताया कि हम लोगों को रबी सीजन में नहर का पानी सिचाई के लिए चाहिए। मुख्यमंत्री ने उन्हें अन्य फसल के लिए प्रोत्साहित किया। किसान ने बताया कि उसका 7 एकड़ खेत है और राजीव गाँधी किसान न्याय योजना से 15 हजार 500 रूपए की राशि मिली है। 30 हजार रुपये का गोबर भी बेचा है। किसान ने मुख्यमंत्री को बताया कि आपके द्वारा शुरू की गई योजना का बेहतर लाभ मिल रहा है। उन्होंने खेती की जमीन और योजनाओं के लाभ की वजह से अपना राशनकार्ड नहीं बनाने की बात कही तो मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि सरकार सभी का राशनकार्ड बना रही है। एपीएल को 10 रुपये किलो में चावल दिया जाता है। किसान कृष्णा चन्द्रा ने अपनी शादी एक साल पहले ही होने की बात बताई तो मुख्यमंत्री ने उनसे पहले बहू के मायके से नाम कटवाने और अपने गाँव में नाम जोड़ने के लिए कहा।

ग्रामीण वृंदा बाई चन्द्रा ने मुख्यमंत्री को राजीवगांधी भूमिहीन मजदूर न्याय योजना से राशि मिलने की जानकारी दी। पशुपालक विनोद कुमार शुक्ला ने मुख्यमंत्री को गोधन न्याय योजना से किसानों को लाभ होने की बात कही। उन्होंने बताया कि उनके पास 8 गाय है और 32 हजार किलो गोबर बेचकर 64 हजार रूपए प्राप्त किए।

महिला समूह ने वर्मी कम्पोस्ट से कमाए 2.75 लाख रूपए

इस दौरान ग्राम पुटपुरा की सुलोचनी बाई ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी समूह ने गौठान में 4200 बोरी वर्मी कंपोस्ट बनाया था जिसे बेचकर 2 लाख 75 हजार लाभ कमाई। वे मुर्गीपालन, बकरी पालन और मशरूम उत्पादन जैसे कार्य से भी जुड़ी है। इससे उनका घर का खर्च भी आसानी से निकल जाता है।

वृक्षारोपण की सफलता पर पचेड़ा के सरपंच को मिली शाबासी

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जब रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के विषय में जानकारी दी तो ग्राम पचेड़ा के सरपंच कृष्ण कुमार कश्यप ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके गांव के गौठान में रीपा के माध्यम से रूरल इंडस्ट्रियल पार्क की स्थापना की जा रही है। उन्होंने इस योजना से ग्रामीण युवाओं को रोजगार के अवसर मिलने और महिलाओं को मशरूम, मछली पालन, मुर्गी, बकरी पालन से आगे बढ़ने की जानकारी दी। सरपंच ने मुख्यमंत्री को बताया कि गौठान में 10 डिसमिल जमीन पर गेंदे की खेती होने से सप्ताह में 1 हजार रुपये से अधिक का लाभ भी मिल जाता है। उन्होंने गौठान में सबसे अधिक पौधे लगाने और जीवित रखने की जानकारी दी तो मुख्यमंत्री ने उनको शाबासी देते हुए प्रशंसा भी की।

बहुत आगे बढ़ें बच्चे

स्वामी आत्मानन्द शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय जांजगीर की छात्रा मिष्ठी साहू और छात्र विभोर यादव ने मुख्यमंत्री को फर्राटेदार अंग्रेजी में अपने स्कूल की गतिविधियों के अलावा बेहतर शिक्षा मिलने की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने उनसे छत्तीसगढ़ी में और विद्यार्थियों ने अंग्रेजी में जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बेहतर शिक्षा के लिए आने वाले दिनों में लगभग 700 आत्मानन्द विद्यालय संचालित की जाएगी। उन्होंने सप्ताह में एक दिन छत्तीसगढ़ी में क्लास और एक संस्कृत की कक्षा होने की जानकारी देते हुए बताया कि इससे बच्चे अंग्रेजी के साथ अपने भाषा को भी सीख पाएंगे। उन्होंने बच्चों को बधाई देते हुए मन लगाकर पढ़ने और आगे बढ़ने भी कहा।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा पामगढ़ विधानसभा के ग्राम केरा में भेंट-मुलाकात के दौरान की गई घोषणाए की। जिनमें ग्राम केरा में जिला सहकारी बैंक की शाखा खोलने, ग्राम केरा में महाविद्यालय खोलने, ग्राम केरा में मुक्तिधाम से गौठान मार्ग तक सीसी रोड़ निर्माण और बिजली लाइन का विस्तार करने की घोषणा शामिल हैं। इसी तरह महानदी में केराघाट में पुल निर्माण की घोषणा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केरा, जिसका आज उद्घाटन हुआ, माँ चंडी दाई के नाम पर उसके नामकरण की घोषणा, शिवरीनारायण में स्थायी फायर ब्रिगेड की व्यवस्था, ग्राम पंचायत नगरीडीह में पंचायत भवन एवं केसला में प्राथमिक शाला भवन में अहाता निर्माण की घोषणा और देवरी में घाट और पचरी निर्माण की घोषणा की गई।