Hindi News Paper Live Raipur Chhattisgarh India



कबीरधाम। धर्मनगरी कवर्धा में परमपूज्य ज्योतिष पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामीश्रीः अविमुक्तेश्वरानंदः सरस्वती जी महाराज के भव्य स्वागत की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। 23 अक्टूबर को शंकराचार्य महाराज जी का आगमन दोपहर 2 बजे श्री परशुराम धर्मध्वज चौक में होगा।

कवर्धा और आसपास के क्षेत्रों में स्वागत की तैयारियां –

वही, पूज्यपाद जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामीश्रीः अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज शंकराचार्य जी भगवान के आगमन लेकर कवर्धा और आसपास क्षेत्रो में स्वागत की तैयारी की जा रही हैं। शंकराचार्य स्वामी श्री के दर्शन मात्र के लिए कवर्धा में दूर-दूर से भक्त आने लगे हैं।

दिव्य दर्शन और आशीर्वाद के लिए भारी उत्साह –

विदित हो शंकराचार्य महाराज पीठाधीरोहण गद्दी में विराजमान होने के बाद पहली बार धर्मनगरी कवर्धा पहुंचने वाले हैं। उनके दिव्य दर्शन और आशीर्वाद लेने के लिए अनुयायियों में बहुत ही उत्साह देखा जा रहा हैं।

वही श्री शंकराचार्य जनकल्याण न्यास के प्रमुख ट्रस्टी चंद्रप्रकाश उपाध्याय ने बताया कि स्वामी:श्री शंकराचार्य पद में अभिषिक्त होने के बाद पहली बार कवर्धा पधार रहे हैं। कवर्धा में स्वामिश्री का दोपहर 02 बजे आगमन धर्मध्वज चौक में होगा। नागरिक अभिनंदन के बाद शोभायात्रा निकाल कर सिग्नल चौक से होते हुए शांतिद्वीप कालोनी में शंकर भवनम में रात्रि विश्राम होगा।

ऐसा है समयसारिणी –

24 अक्टूबर की शाम श्रीजानकी रमण प्रभु देवालय में दीपदान पूजन के बाद शाम 6 बजे से रात 11:40 तक लक्ष्मी पूजन शंकर भवन में करेंगे। रात्रि 11:40 से 12:30 तक काली मंदिर कवर्धा में भगवती काली के जन्मोत्सव में पूजन करके फिर रात्रि 1 बजे से 5.50 बजे तक महानिशा पूजन के बाद 25 अक्टूबर 2022 को दिन 10.30 बजे श्री यदुनाथ गौशाला कवर्धा में गौपूजन करके 11:30 बजे कवर्धा से रायपुर के लिए सड़क मार्ग से प्रस्थान करेंगे। यह जानकारी श्री शंकराचार्य जनकल्याण न्यास के मुख्य प्रबंध ट्रस्टी चंद्रप्रकाश उपाध्याय ने दी हैं।