Hindi News Paper Live Raipur Chhattisgarh India



पहले दौरे में ही सीएचसी सोनहत औचक पहुंचकर लगभग 1 घण्टे तक सभी पंजियों जांच की, बिना पूर्व सूचना के अनुपस्थित स्टाफ पर हुई कार्रवाई

सजगता और सहृदयता के साथ मरीजों और परिजनों से पेश आएं, लापरवाही पर होगी कड़ी कार्रवाई – कलेक्टर

मरीजों से बात कर लिया फीडबैक, पोषण पुनर्वास केन्द्र में माताओं को सलाह, घर पर भी बच्चों के पोषण आहार तथा स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें

कोरिया 20 अक्टूबर 2022/जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने की मंशा के साथ औचक निरीक्षण पर निकले कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह बुधवार को अपने दौरे के पहले ही दिन विकासखण्ड सोनहत के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। स्वास्थ्य केंद्र में अचानक पहुंचकर उन्होंने लगभग 1 घण्टे तक डॉक्टरों तथा स्टाफ की उपस्थिति पंजी की जांच की तथा अनुपस्थित पाए जाने वालों को नोटिस दिए जाने के निर्देश दिए। इस दौरान विगत तीन दिवस से बिना पूर्व सूचना के अनुपस्थित लैब टेक्नीशियन अतर सिंह पर वेतन कटौती के साथ कड़ी कारर्वाई के किए जाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने इस दौरान समस्त चिकित्सकीय स्टाफ को निर्देशित किया कि मरीजों और उनके परिजनों से सहृदयता और सजगता से पेश आएं, बेहतर सुविधाएं मुहैया कराना हमारी प्राथमिकता है। इसमें किसी तरह की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाहों पर सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री लंगेह ने ओपीडी, प्रसव तथा जांच कक्ष, ऑपरेशन कक्ष, दवा वितरण केन्द्र, सोनोग्राफी, एनआरसी, जनरल वार्ड, मेल एवं फीमेल वार्ड आदि में व्यवस्थाओं का जायजा लिया। भण्डार कक्ष में स्टॉक रजिस्टर की जांच करते हुए उन्होंने निरंतर दवाइयों का भौतिक सत्यापन किए जाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी सोनहत को जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत विगत माह पंजीकृत हितग्राहियों को भुगतान की जांच के निर्देश दिए तथा बीएमओ को प्रत्येक मरीज के डिस्चार्ज के पश्चात रेगुलर फ़ॉलोअप करने कहा।

मरीजों से बात कर लिया फीडबैक, पोषण पुनर्वास केन्द्र में माताओं को दी सलाह, घर पर भी बच्चों के पोषण आहार तथा स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें
कलेक्टर श्री लंगेह ने निरीक्षण के दौरान मरीजों से बात कर स्वास्थ्य सुविधाओं में फीडबैक लेते हुए समय पर भोजन, डॉक्टरों की उपलब्धता, दवाईयों, स्वच्छता आदि के विषय में बात की। इस दौरान उन्होंने अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र का अवलोकन किया, बताया गया कि वर्तमान में यहां 06 बच्चे भर्ती हैं। उन्होंने माताओं से समय पर पोषण आहार की उपलब्धता के संबंध में चर्चा की। 2 वर्षीय बालिका प्रियांशी की माता ने बताया कि प्रियांशी का वजन मात्र 8 किलोग्राम था, यहां पर भोजन एवं देखभाल से इसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। कलेक्टर श्री लंगेह ने माताओं को सलाह दी कि बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य हेतु घर पर भी पोषण आहार तथा स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें। इस दौरान कलेक्टर श्री लंगेह ने प्री तथा पोस्ट मैट्रिक आदिवासी बालक आश्रम सोनहत का भी निरीक्षण कर आधारभूत व्यवस्थाओं का जायजा लिया।