Connect with us

CG News

Locks will hang in the government schools of the state

वेतन विसंगति सहित 3 प्रमुख मांगो को लेकर आगामी 6 दिसम्बर को सरकारी स्कूलों में तालाबंदी कर अनिश्चितकालीन आंदोलन की शुरुआत किये जाने को लेकर सहायक शिक्षक फेडरेशन के बीच मतभेद की स्थिति निर्मित हो गयो है। फेडरेशन के एक धड़े ने रविवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि वेतन विसंगति एवं अन्य मांगों पर सरकार की अनदेखी के विरोध में 6 दिसम्बर को प्रदेश भर के स्कूलों में ताले लटक जाएंगे और उसी दिन सभी शिक्षक अनिष्चित कालीन हड़ताल की शुरुआत कर देंगे लेकिन छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के एक बड़े खेमा ने इस जानकारी को सिरे से खारिज कर दिया है। इस खेमे के प्रांत पदाधिकारियों का कहना है कि आगामी 5 दिसम्बर को सहायक शिक्षक फेडरेशन के बैनर तले प्रदेश भर के शिक्षकों की महापंचायत राजधनि रायपुर में बुलाई गई है और आंदोलन की रूपरेखा महापंचायत में ही तय होगी।

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के अंतर्गत प्रदेश के विभिन्न जिलों एवँ ब्लाकों के नाराज आम सहायक शिक्षक साथियों के प्रतिनिधियो की आज राजधानी के कलेक्ट्रेड गार्डन में बैठक सम्प्पन्न हुई जिसमें प्रदेशभर से बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। महिला शिक्षकों के भी अनेक प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

बैठक में उपस्थित फेडरेशन के आम साथिद्वय महेश्वर कोटपरिहा, भोज कुमार साहू, धरम दास बंजारे, बिरेन्द्र नेताम, शिवकुमार साहू, ममता परिहार, दुर्गा विश्वकर्मा, अंजली शर्मा, देवाशीष देवांगन, जाकेश साहू, राजेन्द्र सिन्हा, शीतल जैन, रोहित साहू, रमेश सोनी, अतुल कौशिक, तीरथ सागर आदि आम सहायक शिक्षकों ने संयुक्त बयान जारी करते हुए आगे बताया कि आज उपस्थित समस्त शिक्षकों ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया कि आगामी 06 दिसम्बर से दो सूत्रीय मांग जिसमे सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति दूर करवाना एवँ समस्त शिक्षक एलबी संवर्ग अर्थात सहायक शिक्षक, शिक्षक, व्याख्याता एवँ समस्त एलबी संवर्ग शिक्षकों को प्रथम नियुक्ति तिथि से वरिष्ठता की गणना करते हुए क्रमोन्नत वेतनमान दिलवाना।

विसंगति दूर करने और प्रथम सेवागणना कर क्रमोन्नति देने, उक्त दोनों मांगो को लेकर राज्यभर के समस्त शिक्षक आगामी 06 दिसम्बर से अनिश्चितकालीन आंदोलन पर रहेंगे।

सीघ्र ही उक्त अनिश्चितकालीन आंदोलन के लिए छत्तीसगढ़ प्रदेश के सभी शिक्षक संगठनों के प्रांताध्यक्ष साथियों की बैठक बुलाई जाएगी।

साथ ही सभी संगठनों को मिलाकर सबकी आमसहमति से हड़ताल हेतु एक नया मंच बनाया जाएगा जिसके बैनर तले प्रदेशभर के समस्त शिक्षक एलबी संवर्ग को लेकर बड़ा ऐतिहासिक अनिश्चितकालीन आंदोलन किया जाएगा तथा मांगे पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा।

सीघ्र ही विभिन्न सभी शिक्षक संगठनों के प्रमुखों की बैठक कर संयुक्त बैनर तले ही 06 दिसम्बर से आंदोलन की शुरुवात होगी। सभी संगठनों के प्रमुख पदाधिकारीयो को मिलाकर 15 सदस्यीय एक प्रदेश संयोजक मंडल बनाया जाएगा। संयोजक मंडल में बस्तर एवँ सरगुजा के भी प्रतिनिधि शामिल रहेंगे एवँ दो महिलाओं को भी प्रदेश संयोजक बनाया जाएगा। जिससे कि सामूहिक नेतृत्व में आक्रामक एवँ बड़ा आन्दोलन कर मांग पूरी कराई जा सके।

इधर सहायक शिक्षक फेडरेशन के बड़े धड़े ने 6 दिसम्बर से अनिश्चित कालीन हड़ताल किये जाने की बात को सिरे से इंकार कर दिया है। सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय कोषाध्यक्ष अजय गुप्ता ने बताया कि स्कूलों में तालाबंदी करने सम्बंधित फिलहाल कोई निर्णय नहीं लिया गया है ।उन्होंने बताया कि वेतन विसंगति सहित 3 प्रमुख मांगो को लेकर सरकार द्वारा बनाई गई कमेटियों के साथ अभी तक आख़िरी बैठक नहीं हुई है।

सरकार द्वारा 3 महीने के दिये गए समय की मियाद 4 दिसम्बर को पूरी हो जाएगी ।4 दिसम्बर को मियाद पूरी होने के ठीक 1 दिन बाद बाद आगामी 5 दिसम्बर को राजधानी रायपुर में शिक्षकों की महापंचायत बुलाई गई है।प्रदेश भर के सहायक शिक्षकों का यहां जमावड़ा लगेगा।महापंचायत में आगे की रणनीति तय की जाएगी फिर अगले आंदोलन का एलान उसी दिन कर दिया जाएगा।

CG News

जशपुर में कोरोना टीकाकरण का अभियान तेजी से चलाया जा रहा है

इन दिनों कलेक्टर के निर्देशन पर जिले में सघन कोरोना टीकाकरण का अभियान चलाया जा रहा है। कोरोना टिका को लेकर फैली भ्रांति और उस पर ग्रामीणों का रुख कहीं न कहीं सवास्थ्य विभाग के अभियान को कड़ी मशक्कत का काम बना दे रहा है।

कुछ ऐसी ही तस्वीर मुनादी को मिली है, जो स्वस्थ्यकर्मियों की मशक्कत, ग्राम प्रतिनिधियों का जोर, और मितानिनों के कार्य को बताने के साथ ही यह वीडियो आपको ठहाके लगाने को विवश कर देगी।

दरअसल टीकाकरण का यह अमला बग़ीचा ब्लॉक के ग्राम साहीडॉड्ड में भी टीकाकरण करने पहुंचा हुआ था। जो खेत खार, घर पहुंच कर टीकाकरण कर रही है। जब टीम साहीढांड ग्राम में एक अधेड़ के पास टीका लगाने हेतु पहुंची, तो कुछ उसका रिएक्शन और ऐसा था कि आपको भी हंसी आ जायेगी।

अधेड़ इस भ्रांति को लेकर चिंतित था, की टीका की वजह से आदमी मर जायेगा, सो वह पहले इनकार करता है, वहीं गोली की मांग करता है। वहीं घर वालों एवं अमला के द्वारा जब बताया जाता है कि इसकी गोली नही इंजेक्शन ही लगता है, ना नुकुर, और उसका रिएक्शन और एक्शन के बाद वह टीका तो लगवा लेता है, तो अपने समय लगे टीके को वह दिखाता भी है। वहीं पर किसी ने इस वीडियो को बना कर हम तक भी पहुंचा दिया।

फीलहाल अधेड़ ने टीका तो लगवा लिया, पर इस वीडियो में अधेड़ का एक्शन रिएक्शन को देख लोग काफी हंस रहे हैं। जरा आप भी देखिये यह वीडियो और थोड़ा आप भी हंसिये!!

Continue Reading

CG News

अस्पताल में अव्यवस्था को लेकर संसदीय सचिव ने अस्पताल में तैनात

अपने खाशे अंदाज के लिए हमेशा सुर्खियों में रहने वाले संसदीय सचिव व विधायक यू डी मिंज कल याने मंगलवार को अचानक सामयदायिक स्वास्थ केंद्र दुलदुला पहुँच गए । अस्पताल में अव्यवस्था को लेकर संसदीय सचिव ने अस्पताल में तैनात कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई और बीएमओ बिपिन इंदवार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने को कहा ।

आपको बता दें कि विधायक के अज़्प्ताल पहुँचने से पहले मुनादी डॉट कॉम की टीम ने जब इस अस्पताल का मुआयना किया तो यहां अव्यवस्थाओं का अंबार लगा हुआ था ।

अव्यवस्था का आलम यह था कि कई दिनों से भर्ती मरीजो के बिस्तरों के चादर तक नहीं बदले गए थे । यहां की अव्यवस्था को अपने कैमरे में कैद करने के बाद जब मुनादी की टीम ने संसदीय सचिव को अस्पताल का हाल बताया तो वह तत्काल एक्शन में आ गए और सीधे अस्पताल पहुंच गए ।उन्होंने मुनादी की टीम को भी अपने साथ ले लिया और सीधे दुलदुला अस्पताल पहुंच गए ।

अस्पताल पहुंचकर उन्होंने भी अस्पताल का मुआयना किया और जब उन्होंने सब कुछ अपनी आंखों से देखा तो वह आग बबूला हो गए ।

उन्होंने तत्काल स्वास्थ विभाग के बड़े अधिकारी को फोन लगाया और कहा कि बीएमओ बिपिन इंदवार को तत्काल हटाया जाय क्योंकि वह काफी लम्वे समय से एक ही जगह जमे हुए है ।

Continue Reading

CG News

संसद सत्र के दौरान कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ये क्या कर दिया पढिये पूरी खबर

CgNewsTodwy : पिछले दिनों संसद सत्र के दौरान कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने महिला सांसदों के साथ एक फोटो ट्वीट करते हुए लिखा कि कौन कहता है कि लोकसभा काम करने के लिए आकर्षक जगह नहीं है? आज सुबह मेरे छह साथी सांसदों के साथ ….. उनके इस ट्वीट में सांसद सुप्रिया सुले, परिणीत कौर, मिमी चक्रवर्ती, नुसरत जहां,ज्योतिमणि सहित 6 महिला सांसदों की फ़ोटो उनके साथ खींची गई थी।

लेकिन इस ट्वीट के बाद ट्वीटर पर भाजपा के कुछ नेताओं ने ट्वीट कर थरूर की इस बात के लिए आलोचना की कि थरूर महिला सांसदों को आकर्षक लिखा। इसी कड़ी में हरियाणा के फरीदाबाद के विधायक राजेश नागर ने लिखा कि मिस्टर थरूर ! आप महिला सांसदों के साथ सेल्फी लेकर उन्हें आकर्षक बोलकर नए सांसदों के लिए गलत संदेश छोड़ रहे हैं।

Shashi Tharoor (@ShashiTharoor) Tweeted:
Who says the Lok Sabha isn’t an attractive place to work? With six of my fellow MPs this morning: ⁦@supriya_sule⁩ ⁦@preneet_kaur⁩ ⁦@ThamizhachiTh⁩ ⁦@mimichakraborty⁩ ⁦@nusratchirps⁩ ⁦⁦@JothimaniMP⁩ https://t.co/JNFRC2QIq1 https://twitter.com/ShashiTharoor/status/1465201613274955781?s=20

राजेश नागर के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए सांसद मिमी चक्रवर्ती ने जवाब देते हुए लिखा कि थरूर ने कोई सेल्फी नहीं ली है बल्कि यह फोटो महिला सांसदों की ओर से खींची गई है। सांसद मिमी ने विधायक नागर को सर लिखकर भी संबोधित किया।

Mimssi (@mimichakraborty) Tweeted:
He didn’t take the selfie sir i did. https://twitter.com/mimichakraborty/status/1465296249179959302?s=20

लेकिन राजेश नागर को उनके ट्वीट पर लोगों ने कर्नाटक के विधानसभा में पोर्न फिल्म देखने वाले विधायकों को मंत्री बनाये जाने के मामले में ट्रोल करने लगे। लोगों ने लिखा कि क्या विधानसभा में पोर्न फिल्म देखने वालों को मंत्री बनाना सही है। एक यूजर ने लिखा कि महिलाएं वहीं कम्फ़र्टेबल महसूस करती हैं जहां वे खुद को सुरक्षित मानती हैं।

Continue Reading

Trending