NHM BREAKING : महिला स्वास्थ्य अधिकारी से दुष्कर्म मामले में प्रदेशाध्यक्ष ने लिखा पत्र, रखीं यह मांगें







न्यूज़ ओशन ब्यूरो। छत्तीगसढ़ के छिपछिपि में एक दुर्दम्य घटना सामने आई थी जिसके बाद यह सवाल खड़ा होगया था कि क्या प्रदेश में अब महिला अधिकारी भी सुरक्षित नहीं हैं? स्वास्थ्य अधिकारी के साथ ना सिर्फ दुष्कर्म किया गया बल्कि इस शर्मनाक घटना का आरोपियों ने वीडियो भी बनाया। अब इस मामले पर छत्तीसगढ़ एनएचएम के प्रदेश अध्यक्ष हेमंत सिन्हा ने एक पत्र लिखा है।


प्रति,
माननीय मुख्यमंत्री
माननीय गृह मंत्री
माननीय स्वास्थ्य मंत्री
मुख्य सचिव महोदय
गृह सचिव महोदय
पुलिस महानिदेशक महोदय
छत्तीसगढ़ राज्य

विषय- हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर छिपछिपी जिला मनेन्द्रगढ़ मे घटित घटना के दोषियों के ऊपर कार्यवाही तथा प्रदेश में कार्यरत महिला स्टाफ की सुरक्षा सुनिश्चित करने बाबत ।

महोदय,
उपरोक्त विषय मे लेख है कि दिनांक 21/10/2022 को स्वास्थ्य विभाग मे कार्यरत महिला सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी(सी. एच. ओ) के साथ ड्यूटी के दौरान दुष्कर्म कि घटना किया गया।

घटना के 48 घंटे बीत जाने के बावजूद अभी तक सभी आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए है जिससे राज्य के समस्त अधिकारी/कर्मचारी आक्रोशीत है| और सभी आरोपियों कि जल्द से जल्द गिरफ्तारी कि मांग करते है।

जैसा कि आपको विदित ही है कि प्रदेश में बड़ी संख्या में महिला स्टाफ अपने दायित्वों का निर्वहन कर रही हैं। प्रदेश की यह महिलाशक्ति दूरवर्ती , दुर्गम और पहुँचविहीन क्षेत्रों में भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन पूरी निष्ठापूर्वक कर रही हैं । विशेष रूप से स्वास्थ्य के क्षेत्र में इन महिला स्टॉफ का महत्वपूर्ण योगदान है।

हम आपका ध्यान इस ओर आकृष्ट करना चाहते हैं कि इनमें एक बड़ी संख्या नर्सिंग कैडर की है जो अनवरत जनता की सुविधाओं को के लिए अपने ड्यूटी स्थल पर मौजूद रहती हैं । इनके द्वारा टीकाकरण, प्रसव, जच्चा बच्चा देखभाल, टीबी , मलेरिया, कुष्ठ उन्मूलन, हाट बाजार जैसे समस्त महत्वपूर्ण प्रोग्राम का क्रियान्वयन किया जाता है ।

किंतु विगत कुछ समय से यह देखा जा रहा है कि राज्य में महिला स्टाफ के विरुद्ध कई प्रकार के दुर्व्यवहार एवं आपराधिक घटनाएं घटित हो रही हैं। ऐसे में प्रदेश में कार्यरत महिला स्टॉफ का स्वयं एवम् अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर चिंतित होना स्वाभाविक है।

कृपया अवगत होना चाहेंगे राज्य मे अधिकारी/कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवाहर तथा मारपीट, हत्या एवं वर्तमान मे दुष्कर्म जैसे अमानवीय कृत्य को अंजाम दिया गया | ऐसी घटनाएं कर्मचारियों के मन में असंतोष और निराशा उत्पन्न कर रही हैं ।
उक्त संबंध मे प्रदेश मे कार्यरत समस्त अधिकारी कर्मचारी निम्न मांग रखते है

  1. हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर मे घटीत घटना के सभी आरोपियों की गिरफ्तारी एवं उच्चत्म दंड दिया जावे|
    2.समस्त स्वाथ्य केन्द्रो अधिकारी /कर्मचारियों कि सुरक्षा सुनिश्चित कि जावे|
  2. महिला स्टाफ कि सुरक्षा हेतु समस्त विभाग एवं ग्राम/नगर स्तर पर सुरक्षा समिति बनाई जावे |
  3. एक राज्य स्तरीय महिला सुरक्षा सेल या कर्मचारी हेल्पलाइन लाइन न. जारी किया जावे जिसमे स्टाफ अपनी बात बिना किसी डर भय के रख सके|

अतः महोदय से सनम्र निवेदन है कि उक्त दोनों घटनाओं में लिप्त अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने हेतु हरसंभव प्रयास सरकारी स्तर पर किए जाएं ताकि भविष्य में कोई भी आपराधिक तत्व इस तरह के अपराध का सोच भी ना सकें।